Suchnaji

Breaking News: EPS 95 Higher Pension का पैसा ईपीएफओ कर रहा वापस, बीएसपी का आया जवाब

Breaking News: EPS 95 Higher Pension का पैसा ईपीएफओ कर रहा वापस, बीएसपी का आया जवाब
  • भिलाई स्टील प्लांट के जवाब में 3 बिंदुओं का जिक्र किया गया है।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। ईपीएस 95 हायर पेंशन (EPS 95 Higher Pension) को लेकर बड़ी खबर आ रही है। ज्वाइंट ऑप्शन फॉर्म जमा करने वाले कार्मिकों का डिमांड ड्राफ का पैसा वापस होने पर एक बड़ा बयान आ गया है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees Provident Fund Organisation) को लेकर उठाए जा रहे सवाल पर भिलाई स्टील प्लांट ने लिखित में जवाब दे दिया है।

ये खबर भी पढ़ें : Gold-Silver Price: अक्ष्य तृतीया के बाद औंधे मुंह गिरा सोने का भाव, बढ़े चांदी के तेवर, देखें आज का रेट

AD DESCRIPTION

ईपीएस 95 हायर पेंशन (EPS 95 Higher Pension) के लिए पैसा जमा करने के बाद उसे वापस करने पर बवाल मचा हुआ है। BSP Ex-employee Welfare Association के अध्यक्ष शांत कुमार ने ईपीएफओ (EPFO) की कार्य प्रणाली और भिलाई स्टील प्लांट (Bhilai Steel Plant) से स्पष्टीकरण का मुद्दा उठाया था। बीएसपी के सीजीएम पर्सनल को पत्र लिखा था। इसका लिखित जवाब अब आ गया है। ईपीएफओ द्वारा सेल (SAIL) के कर्मचारियों और अधिकारियों के उच्च पेंशन हेतु डिमांड ड्राफ्ट वापस करने से उत्पन्न समस्या के निराकरण की मांग की थी।

ये खबर भी पढ़ें : EPFO BIG NEWS: शिक्षा, विवाह और आवास के लिए ऑटो क्लेम सॉल्यूशन, 10 नहीं, 3 दिन में लीजिए घर बैठे पैसा

EPS 95 Higher Pension पर बीएसपी का ये है जवाब

1. ईपीएफओ द्वारा पत्र क्रमांक: ईपीएफओ/आरओ/रायपुर/पीओएचडब्ल्यू, दिनांक 06.03.2024 में उल्लेख किया गया है कि ट्रस्ट नियमों के खंड 11ए और 11 बी के अनुसार, पेंशन फंड में योगदान 6500 या 15000 रुपये तक सीमित है। उन्होंने बताया कि ट्रस्ट की उक्त धाराओं पर विचार करते हुए ईपीएफओ, रायपुर ने अपने जोनल कार्यालय से स्पष्टीकरण मांगा है और स्पष्टीकरण प्राप्त होने के बाद ही आगे कोई कार्रवाई की जाएगी। इसलिए बीएसपी की ओर से स्पष्टीकरण का इंतजार नहीं किया जा रहा है।

ये खबर भी पढ़ें : Retirement Planning में ये 3 गलतियां न करें, पढ़ें निवेश फॉर्मूला, भत्ते, बोनस और वेतन वृद्धि पर रिपोर्ट

2. उच्च वेतन आवेदन के ईपीएफओ ऑनलाइन पोर्टल (EPFO Online Portal) के अनुसार पिछली सेवाओं का आवेदन जमा करते समय सदस्यों द्वारा आवेदन किया जाना था और संयंत्र में वेतन विवरण अपलोड किया जाना था। और संबंधित संयंत्र द्वारा अनुमोदित किया जाना था। उच्च वेतन आवेदन के ईपीएफओ ऑनलाइन पोर्टल के अनुसार, नियोक्ता उस संयंत्र में किसी विशेष ईपीएस में केवल कार्यकाल का वेतन विवरण अपलोड कर सकता है।

ये खबर भी पढ़ें : उत्पादन लक्ष्य हासिल करने SAIL RSP की नई पहल ‘BAAHAM-Working Together, बॉटम लाइन पर फोकस

3. बकाया राशि भुगतान के आधार पर बताई गई है। पिछले महीनों में कोई भी समायोजन समस्याएँ पैदा कर सकता है और अनावश्यक कर का बोझ बढ़ा सकता है। हालाँकि, ईपीएफओ, रायपुर को बकाया का माहवार विवरण देखने के लिए लिंक प्रदान किया गया था।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai के प्लेयर्स ने नेशनल चैंपियनशिप में मारी बाजी, स्पोर्ट्स हब के खिलाड़ी ने छत्तीसगढ़ का बढ़ाया मान