Suchnaji

काफी हाउस को लेकर दलालों का रैकेट सक्रिय, फील्डिंग करने वाले बेनकाब, जल्द नाम होंगे सार्वजनिक

काफी हाउस को लेकर दलालों का रैकेट सक्रिय, फील्डिंग करने वाले बेनकाब, जल्द नाम होंगे सार्वजनिक
  • देशभर में 164 से अधिक कॉफी हाउस रेस्टोरेंट संचालित करने वाला यह संगठन भिलाई में काफी लोकप्रिय है।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट (Bhilai Steel Plant) के कॉफी हाउस (Coffee House) को लेकर एक बड़ा खुलासा होने वाला है। इसे बदनाम करने और ठेका लेने के लिए की जा रही फील्डिंग का राज खुल गया है। जिस तरह से रेल मिल में खेल खेला गया था, उसी तर्ज पर कॉफी हाउस का गेम शुरू किया गया। लेकिन, इस बार 4 चेहरे बेनकाब हो गए हैं।

AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें : SAIL Strike: नोटिस मिलते ही प्रबंधन का बड़ा जवाब, हड़ताल वापस लेने के लिए दिया यह तर्क

भिलाई से दिल्ली तक इसकी गूंज सुनाई दे दी है। दलालों का रैकेट इस तरह सक्रिय हो गया है कि प्रबंधन ने अब सबक सिखाने का मन बना लिया है। नाम जल्द ही सार्वजनिक किए जाएंगे ताकि दलालों के धंधे चौपट किए जा सकें।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Steel Plant के पूर्व CGM जीपी सिंह, सीनियर मैनेजर सत्यवान नायक ले आए अवॉर्ड, भुवनेश्वर चैप्टर को मिला बेस्ट QCFI अवॉर्ड

बीएसपी प्रबंधन का कहना है कि सामान्य दिनों में भी भिलाई निवास के इंडियन कॉफी हाउस में दिन भर हलचल बनी रहती है। लोगों की आवाजाही, वैचारिक चर्चाओं का दौर और शांत वातावरण इस्पात नगरी के नागरिकों को हमेशा आकर्षित करता है। देशभर में 164 से अधिक कॉफी हाउस रेस्टोरेंट संचालित करने वाला यह संगठन भिलाई में काफी लोकप्रिय है।

ये खबर भी पढ़ें : Breaking News: भिलाई स्टील प्लांट हादसे में जख्मी मजदूर की मौत

भिलाई निवास, सेल का एक ऐसा ऑफिशियल गेस्ट हाउस है जहां सरकारी, प्रशासनिक, वशिष्ठ और अति विशिष्ठ अतिथियों का निरंतर आवागमन बना रहता है। भिलाई निवास के इंडियन कॉफी हाउस ने भिलाई निवास की रौनक में इजाफा किया है और साथ ही आतिथ्य सत्कार और मेहमाननवाजी की एक शानदार तस्वीर पेश की है।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL के साथ RINL में भी 29-30 को हड़ताल, CMD को थमाया नोटिस

सेल भिलाई इस्पात संयंत्र के भिलाई निवास में आने और रहने वाले सरकारी, प्रशाशनिक, विशिष्ठ, अति विशिष्ठ अतिथियों और अन्य अतिथियों के लिए इंडियन कॉफी हाउस द्वारा दिए जाने वाले सेवाओं का विशेष महत्व बन जाता है।

ये खबर भी पढ़ें : सेल हड़ताल 2024: बोकारो स्टील प्लांट की संयुक्त यूनियन ने मांगों की फेहरिस्त के साथ थमाया स्ट्राइक नोटिस

हाल ही में आए कई बड़ी हस्तियों जैसे अनूप जलोटा, राजा मुराद  एवं पिछले दो वर्षों में पधारे शासकीय एवं उच्च स्तर के प्रशासनिय अधिकारी, सेल, रेलवे इत्यादि के बड़े अधिकारीयों ने भिलाई निवास के कॉफी हाउस में जलपान एवं कमरों और अपार्टमेंट्स में अतिथियों की देखभाल हेतु सेवाओं का अनुभव आगंतुक पुस्तिका में सकारात्मक प्रतिक्रियाओं के रूप में साझा किये हैं।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL NJCS बैठक में भूल मत जाइएगा पर्क्स का एरियर, नाइट शिफ्ट एलाउंस और 39 माह का बकाया एरियर

जानिए सेल की पूर्व अध्यक्ष सोमा मंडल क्या बोली थीं…

सेल की पूर्व अध्यक्ष सोमा मंडल ने जून 2023 को अपने कमेंट्स में लिखा कि भिलाई निवास गेस्ट हाउस का इंडियन काफी हाउस द्वारा संचालन बहुत प्रशंसनीय है। टीम भिलाई के सदस्यों में जोश और उत्साह भरा हुआ है और मुझे विश्वास है की ये संयंत्र को और ऊंचाई तक ले जाएंगे।

ये खबर भी पढ़ें : भिलाई स्टील प्लांट के सिंटर प्लांट ने उत्पादन का रचा नया कीर्तिमान

मई 2023 में रेलवे बोर्ड के अतिरिक्त मेम्बर (वर्क्स) ब्रजेश कुमार ने अपने कमेंट्स में भिलाई निवास प्रबंधन की प्रशंसा करते हुए लिखा कि हालाँकि वे कम समय के लिए आये थे लेकिन इस दौरान वे गेस्ट हाउस की अच्छी रखरखाव, साफ़ सुथरा व्यवस्था और इंडियन काफी हाउस द्वारा दी गयी स्वादिस्ट ब्रेकफास्ट से प्रभावित हुए।

ये खबर भी पढ़ें : 25 जनवरी तक आयुष्मान कार्ड अनिवार्य, SAIL BSP के लिए यह आदेश

सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर भी कर गए तारीफ

सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर प्रवीन सिन्हा जो जनवरी 2023 में भिलाई इस्पात सयंत्र आये थे, अपने कमेंट्स में लिखा कि भिलाई निवास में जो उन्हें त्रुटिहीन और पर्सनल सर्विस मिली उससे वे बेहद प्रभावित हुए हैं। यहां के वेटर विनम्र स्वाभाव के हैं और उनकी सर्विस में भी तत्परता दिखी।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL के ठेका मजदूर भी शामिल होंगे 29 व 30 जनवरी की हड़ताल में, दिया नोटिस

हाल ही संपन्न चुनाव में व्यय पर्यवेक्षक के रूप में  भिलाई निवास में ठहरे तारिक माबूद एवं सुकुमार सरकार ने भी अपने कमेंट्स में यहां कि व्यवस्था और मेहमान नवाजी की तारीफ की।

ये खबर भी पढ़ें : अनुभव पुरस्कार योजना 2024: पेंशनभोगी ध्यान दें, आपके लिए मौका

इंडियन कॉफ़ी हाउस का संचालन 1940 से

महाप्रबंधक (इंडियन कॉफी हाउस) केएस हरीदास से मिली जानकारी के अनुसार, इंडियन कॉफ़ी हाउस का संचालन 1940 के दशक में कॉफी-बोर्ड ने शुरू किया था, पर जब देश स्वतंत्र हुआ, तो 1950 के दशक में इंडियन कॉफी हाउस को बंद कर दिया गया और कॉफी-बोर्ड ने इनमें कार्यरत लोगों की नौकरी चले गयी थी। तब से कॉफी हाउस के कर्मचारियों ने एके गोपालन के नेतृत्व में एक सोसाइटी बनाकर कॉफी हाउस की बागडोर अपने हाथों में संभाली। अब इसका नाम इंडियन कॉफी हाउस हो गया है।

ये खबर भी पढ़ें : EPFO का EPS 95 हॉयर पेंशन पर बड़ा बयान, जल्द देने जा रहे पेंशन और एरियर भी

जल्द ही एक और कॉफी हाउस की मिलेगी सौगात

पहली इंडियन कॉफी वर्कर को-ऑपरेटिव सोसाइटी (Indian Coffee Workers Co-operative Society) की स्थापना 19 अगस्त 1957 को बंगलुरु में की गई और पहला इंडियन कॉफी हाउस नई दिल्ली में 27 अक्तूबर 1957 को खुला। इसके बाद इंडियन कॉफी हाउस का विस्तार देश के तमाम छोटे- बड़े शहरों में किया गया। दुर्ग- भिलाई में ही लगभग 5-6 इंडियन कॉफी हाउस संचालित है। जल्द ही एक और नया कॉफी हाउस भिलाई शहर को मिलने वाला है।

ये खबर भी पढ़ें : श्री जगन्नाथ मंदिर समिति सेक्टर 4 ने विधायक पुरंदर मिश्रा को किया सम्मानित

NTPC, NSPCL, NMDC तक में सेवा

आइएसओ मानकों से सर्टिफाइड इंडियन कॉफी हाउस वर्कर्स कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड (Indian Coffee Workers Co-operative Society Limited) ना केवल छत्तीसगढ़ मंत्रालय अपितु सर्किट हाउस रायपुर, एनएसपीसीएल भिलाई तथा एनटीपीसी, एनएमडीसी जैसे सार्वजनिक उपक्रमों समेत भिलाई इस्पात संयंत्र इस्पात भवन व भिलाई निवास एवं अन्य राज्यों के गेस्ट हाउस कैटरिंग एवं कैंटीन का संचालन करती है।

ये खबर भी पढ़ें : EPFO की लेटलतीफी से EPS 95 हॉयर पेंशन में भारी नुकसान, ब्याज का अतिरिक्त भार

सोसायटी द्वारा लोजिंग  और कई औद्योगिक कैंटीन, गेस्ट हाउस आदि संचालित की जाती है। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, एनसीएल, सिंगरौली, सीआईएल, कोलकाता आदि के बिजली संयंत्र और मध्य प्रदेश पुलिस के तहत कई कैंटीन और मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की विधानसभा कैंटीन और पिछले कई दशकों से संतोषजनक खानपान/आतिथ्य सेवायें प्रदान कर रहे हैं।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 पेंशनर्स की EPFO से 7 बड़ी मांग, पढ़िए ताज़ा खबर

भिलाई निवास पिछले 54 वर्षों से सेवा दे रहा

बीएसपी का कहना है कि भिलाई के परिपेक्ष्य में देखा जाये तो, सयंत्र द्वारा संचालित भिलाई निवास पिछले 54 वर्षों से सेल की ओर से आतिथ्य सत्कार में अपना महत्वपूर्ण योगदान देता आ रहा है। जहां हाल में इंडियन कॉफी हाउस ने रेस्टोरेंट एवं केटरिंग, फ्रंट डेस्क मैनेजमेंट एवं हाउसकीपिंग में गुणवत्तायुक्त सेवाएं प्रदान कर भिलाई निवास की श्रेष्ठ गुणवत्ता युक्त सेवाओं में बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान प्रदान कर रहा है।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 पेंशन पर हंगामा शुरू, EPFO कार्यालय का घेराव, हायर पेंशन, पत्रकारों, विधवाओं का भी ख्याल

प्रबंधक (इंडियन कॉफी हाउस) वी राजीवन ने अपना व्यक्तिगत अनुभव साझा करते हुए कहा कि कॉफी हाउस के संचालन हेतु बीएसपी हमें विभिन्न सुविधाएं प्रदान करती है, बदले में हम स्वादिस्ट खाद्य पदार्थों एवं उत्कृष्ट अतिथि सत्कार सुनिश्चित करते हैं। हमारे यहां स्वाद के साथ-साथ साफ़ सफाई का भी पूरा ध्यान रखा जाता है।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL हड़ताल: NJCS मीटिंग से पहले दे दिया नोटिस, संयुक्त यूनियन सभी प्लांट और खदान करेगी 29-30 को हड़ताल