Suchnaji

Chief Minister Bhupesh Baghel के भेंट मुलाकात का नया फॉर्मेट, मौका सिर्फ और सिर्फ युवाओं को, पढ़िए सीएम ने क्या लिखा ट्वीट में

Chief Minister Bhupesh Baghel के भेंट मुलाकात का नया फॉर्मेट, मौका सिर्फ और सिर्फ युवाओं को, पढ़िए सीएम ने क्या लिखा ट्वीट में
  • बघेल संभागवार युवाओं से करेंगे सीधे संवाद। मुद्दों, उपलब्धियों और आकांक्षाओं पर होगी बात।

सूचनाजी न्यूज, रायपुर। सभी वर्ग के आम नागरिकों से विधानसभावार भेंट-मुलाकात पूर्ण होने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अब प्रदेश के युवाओं से संभागवार सीधे संवाद करेंगे। इस खास आयोजन के दौरान वे युवाओं से उनके मुद्दों, उपलब्धियों और आकांक्षाओं पर बात करेंगे। वे युवाओं के प्रश्नों के जवाब भी देंगे।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर इसकी जानकारी साझा की। उन्होंने लिखा-नवा छत्तीसगढ़ की बात, युवाओं के साथ। मेरे युवा साथियों! आप सब नवा छत्तीसगढ़ में आए इस सकारात्मक बदलाव की यात्रा के नायक हैं। भेंट-मुलाकात की तरह ही अब अपने युवा साथियों के साथ मैं संवाद करने प्रत्येक संभाग में आ रहा हूं। आप सबसे आपके मुद्दों, उपलब्धियों और आकांक्षाओं पर बात होगी। सवाल जवाब का सिलसिला रहेगा जारी…।

AD DESCRIPTION

छत्तीसगढ़ में राजीव युवा मितान क्लब के गठन से युवा-ऊर्जा को सकारात्मक दिशा मिली है। इन क्लबों के माध्यम से युवा अपने-अपने क्षेत्रों में रचनात्मक कार्य कर रहे हैं। उनमें काफी उत्साह है। संभागस्तरीय आयोजन के दौरान युवा अपने अनुभव साझा करेंगे, ताकि उनके अनुभव का लाभ अन्य लोग भी उठा सकें। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अपनी बात रखेंगे और युवा भी अपनी बात साझा करेंगे। वे मुख्यमंत्री से प्रश्न भी पूछ सकेंगे। कार्यक्रम में सभी वर्ग के युवाओं का प्रतिनिधित्व होगा।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने साढ़े चार सालों में युवा हित में अनेक निर्णय लिये हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं की फीस माफी के साथ ही राज्य में रोजगार मिशन का संचालन किया जा रहा है। साढ़े चार सालों में बड़े पैमाने पर शासकीय भर्तियां की गई हैं।

हाल ही में रोक होने के बाद और लगभग 20 हजार शासकीय पदों भर्तियां की जा रही हैं। रोजगार मेलों का आयोजन कर बड़ी संख्या में रोजगार उपलब्ध कराए जा रहे हैं। एक लाख 17 हजार से अधिक युवाओं को बेरोजगारी भत्ते की राशि हर महीने प्रदान की जा रही है। अब तक 80 करोड़ रुपए की राशि युवाओं के खाते में अंतरित की जा चुकी है। इसके अलावा राज्य की खेल अधोसंरचना को भी मजबूत किया गया है।