Suchnaji

बीएसपी कर्मियों की पत्नियों ने पकड़ा हाथ, कहा-हम भी हैं तैयार

बीएसपी कर्मियों की पत्नियों ने पकड़ा हाथ, कहा-हम भी हैं तैयार
  • सिविल डिफेन्स द्वारा एचआरडी में “हम भी हैं तैयार” का आयोजन।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र (SAIL – Bhilai Steel Plant) के मानव संसाधन विकास विभाग (Human Resource Development Department) द्वारा संचालित नागरिक सुरक्षा संगठन भिलाई (भारत सरकार-गृह मंत्रालय से संबद्ध) द्वारा इस्पात कर्मियों की धर्मपत्नियों व गृहिणियों हेतु एक दिवसीय बुनियादी नागरिक सुरक्षा कार्यशाला “हम भी है तैयार” का आयोजन मानव संसाधन विकास विभाग के सभागार में किया गया।

AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें : मैत्रीबाग फ्लावर शो: गेट पर ही दहाड़ से आपका स्वागत करेगा शेर, प्रभु राम का दिखेगा चेहरा, चंद्रयान की झलक भी

कार्यशाला का शुभारंभ करते हुए महाप्रबंधक (मानव संसाधन विकास) अमूल्य प्रियदर्शी ने अपने संबोधन में कहा कि महिलाओं की सहभागिता व विपरीत परिस्थिति हेतु क्षमता विकास करना तथा उनका मनोबल बनाये रखना हेतु यह भिलाई इस्पात संयंत्र की एक अभिनव पहल है। अपने कार्मिकों के प्रशिक्षण के साथ ही उनकी धर्मपत्नियों को भी प्रशिक्षित करना भी महत्वपूर्ण है।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL BSL के नवनियुक्त निदेशक प्रभारी बीके तिवारी से मिलने पहुंचा SC-ST एसोसिएशन, बड़ी प्लानिंग पर रहेगा साथ

इस कार्यशाला का उद्देश्य किसी भी आपदा, विपरीत परिस्थिति व संकटकालीन समय में गृहणियां, धैर्य व हिम्मत के साथ कैसे कार्य करे व संकट से जूझने का प्रयास कैसे करे, बचाव कार्य कैसे करे तथा प्राथमिक उपचार की जानकारी दी गई।

ये खबर भी पढ़ें : मैत्रीबाग फ्लावर शो: गेट पर ही दहाड़ से आपका स्वागत करेगा शेर, प्रभु राम का दिखेगा चेहरा, चंद्रयान की झलक भी

इस अवसर पर उपस्थित मुख्य महाप्रबंधक (एचआरडी एवं बीई) व नागरिक सुरक्षा अधिकारी निशा सोनी ने कहा कि भिलाई इस्पात संयंत्र के उत्पादन व सुरक्षा में गृहणियों का महत्वपूर्ण योगदान होता है।

“हम भी है तैयार” कार्यक्रम नागरिक सुरक्षा संगठन, छत्तीसगढ़ द्वारा भिलाई इस्पात संयंत्र के गृहणियों के लिए विशेष रूप से बनाया गया है क्योंकि घर की सम्पूर्ण जिम्मेदारी महिलाएं ही संभालती है व घर में होने वाली किसी भी आपदा, दुर्घटना व अप्रत्याशित घटना में पहली प्रतिक्रिया या प्रथम दृष्टया के रूप में गृहणी ही होती है।

ये खबर भी पढ़ें : राशनकार्ड नवीनीकरण के लिए आवेदन 15 फरवरी तक, मत कीजिए देर

अतः गृहणियों को इस हेतु तैयार करने की जिम्मेदारी नागरिक सुरक्षा संगठन ने लिया है और “हम भी है तैयार” के माध्यम से प्रशिक्षित किया जा रहा है। आकस्मिक परिस्थिति में स्वयं व परिवार को कैसे जागरूक रखे व सुरक्षित रहे बताया गया।

ये खबर भी पढ़ें : ED Works Skill Trophy Competition: बीएसपी कर्मचारियों को ट्रॉफी संग मिला 5000 तक

कार्यक्रम उपरांत गृहणियों ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि हमें पहली बार नागरिक सुरक्षा संगठन का इतिहास तथा हमारा योगदान व भूमिका से अवगत कराया गया, जो हर नागरिक का प्रथम कर्तव्य है।

उन्होंने इस कार्यक्रम को बहुत ही आवश्यक व उपयोगी बताया। आपदा की जानकारी मिलने पर बचाव कार्य कैसे करे व प्राथमिक उपचार की जानकारी गृहणियों के लिए बहुत ही आवश्यक है। उन्होंने इस प्रकार की जानकारीपूर्ण कार्यक्रम के आयोजन हेतु प्रबंधन का आभार व्यक्त किया।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL BSL के DIC बीके तिवारी की पढ़िए कुंडली, बधाई देने वालों का रेला

इस कार्यशाला में राष्ट्रीय नागरिक सुरक्षा महाविद्यालय, नागपुर से प्रशिक्षित प्रशिक्षकगणों में मास्टर अनुदेशक व स्टाफ आफिसर (मानव संसाधन विकास विभाग) स्वतंत्र कुमार ने नागरिक सुरक्षा का इतिहास, उद्देश्य व हमारी भूमिका, आपदा प्रबंधन, घरेलु उपकरण व विद्युत सुरक्षा व संचार सेवा विषय पर अपना प्रभावशाली व्याख्यान प्रस्तुत किया।

ये खबर भी पढ़ें : 35th National Federation Cup Handball Tournament: रेलवे की महिला टीम ने जीता स्वर्ण पदक, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की 4 बेटियों का कमाल

वरिष्ठ तकनीशियन (मर्चेंट मिल) सुरेन्द्र नंदेश्वर ने बचाव सेवा व प्रदर्शन पर अपना विचार प्रस्तुत किया तथा नर्सिंग सहायक (राष्ट्रीय औद्योगिक स्वास्थ्य सेवा केन्द्र विभाग) दिनेश एस ग्वाल ने प्रथमोपचार विषय पर अपना प्रभावशाली व्याख्यान प्रस्तुत किया। कार्यशाला के पाठ्यक्रम का समन्वय, मास्टर अनुदेशक/स्टाफ ऑफिसर स्वतंत्र कुमार द्वारा किया गया।

ये खबर भी पढ़ें : दुनिया की सबसे लंबी रेल पटरी प्रोडक्शन का Bhilai Steel Plant ने लगातार दूसरे महीने बनाया रिकॉर्ड