Suchnaji

Employees Provident Fund Organisation: 2 करोड़ लोग ले चुके, अब आप नहीं ले सकते पीएफ का ये पैसा…

Employees Provident Fund Organisation: 2 करोड़ लोग ले चुके, अब आप नहीं ले सकते पीएफ का ये पैसा…

PF खाते से पैसा निकालने का बदला नियम, कोरोना काल में शुरू हुई ये सुविधा हुई बंद, अब नहीं निकाल सकेंगे पैसा। 

सूचनाजी न्यूज, छत्तीसगढ़। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees Provident Fund Organisation) के सदस्यों के लिए खास खबर है। पीएफ (PF) का पैसा निकाला अब मुश्किल हो गया है। मोदी सरकार ने कोरोना काल में जो सुविधा दी थी, अब उस पर विराम लगा दिया गया है।

आप अपने ही पीएफ एकाउंट से पैसा नहीं निकाल सकते हैं। आइए, जानते हैं किस केस में आपको प्रतिबंधित किया गया है। आखिर, सरकार ने क्यों ऐसा फैसला? किस तरह से ईपीएफओ सब्सक्राइबर को नुकसान होने वाला है? तमाम सवालों का जवाब आपको सूचनाजी.कॉम की इस न्यूज में मिल जाएगा।

AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 पेंशन को लेकर EPFO-सरकार पर भयंकर गुस्साखुद को भिखारी से गैर-गुजरे बोल गए पेंशनभोगी

सारी उम्र नौकरी करने वालों का सहारा पेंशन होती है। वेतन से हर माह इम्प्लाइज और इम्प्लायर का कंट्रीब्यूशन पेंशन फंड में जाता है, जिससे रिटायरमेंट के बाद आपको एक अच्छी पेंशन दी जाती है। कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) ने फंड विड्रॉल करने के नियम में बड़ा बदलाव करके सबको हैरान कर दिया है।

ईपीएफओ ने तत्काल प्रभाव ने कोविड 19 एडवांस बंद करने का फैसला ले लिया है। ईपीएफओ का तर्क है कि कोविड पीड़ितों को राहत देने के लिए एडवांस देने की सुविधा शुरू की गई थी। वर्तमान में कोरोना का कोई असर नहीं है, इसलिए इस सुविधा का गलत इस्तेमाल होने लगा। इसको रोकने के लिए ही ईपीएफओ ने एडवांस राशि की सुविधा पर विराम लगा दिया है।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 पेंशन: BJP 400 पार की जगह 240 सीट पाईविधानसभा चुनाव में अब 7500 पेंशन की लड़ाई

आया नोटिफिकेशन और सुविधा बंद

ईपीएफओ की ओर से 12 जून 2024 को नोटिफिकेशन जारी किया गया। नोटिफिकेशन में स्पष्ट रूप से उल्लेख है कि कोविड-19 अब महामारी नहीं है। इसलिए एडवांस निकासी की सेवा को तत्काल प्रभाव से बंद करने का फैसला लिया गया।

नॉन-रिफंडेबल एडवांस रकम निकालने की सुविधा थी

कर्मचारी भविष्य निधि के खाताधारकों को कोविड-19 महामारी के दौरान एडवांस निकासी की सुविधा दी गई थी। खास बात यह है कि इस सुविधा से पीएफ अंशधारक अपने पीएफ खाते से दो बार पैसे निकाल सकते थे। कोरोना की पहली लहर के दौरान अंशधारकों को एक नॉन-रिफंडेबल एडवांस (Non-Refundable Advance) रकम निकालने की सुविधा मिली थी।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 पेंशन: BJP 400 पार की जगह 240 सीट पाईविधानसभा चुनाव में अब 7500 पेंशन की लड़ाई

इसके बाद कोरोना की दूसरी लहर के दौरान 31 मई, 2021 एक बार फिर से एडवांस विड्रॉल की अनुमति दी गई थी। महामारी के दौरान दो करोड़ से ज्‍यादा सब्‍सक्राइबर्स ने इस सुविधा का लाभ उठाया था।

ये खबर भी पढ़ें : Employees Pension Scheme 1995: पेंशन 7500+DA+मुफ्त चिकित्सा सेवा चाहिए, 1000-3000 में कट रही मजबूर जिंदगी, EPFO के दांव में फंसे पेंशनर्स