Suchnaji

SAIL हाउस लीज: रजिस्ट्री की प्रक्रिया पढ़ें सबसे पहले Suchnaji.com पर

SAIL हाउस लीज: रजिस्ट्री की प्रक्रिया पढ़ें सबसे पहले Suchnaji.com पर
  • सीएम के समक्ष विधायक और महापौर ने रखी थी लीज धारकों की समस्याओं को,तब सीएम ने दिया निर्देश, अब मिलेगा लाभ।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई टाउनशिप में रह रहे लोगों के लिए बड़ी खुश खबरी है। लीज रजिस्ट्री का मामला जो बीते कई सालों से अटका हुआ था, अब यह समस्या का परमानेंट समाधान कर लिया गया है। सावन के पहले सोमवार के पावन अवसर पर लीज डीड की रजिस्ट्री की प्रक्रिया का आगाज हो गया है।

ये खबर भी पढ़ें:   हाउस लीज: BSP के पास रजिस्ट्री प्रक्रिया के लिए आवेदन आने शुरू, Bhilai नगर निगम का चलेगा सिक्का, Bank अब देंगे लोन, बिजली बिल हॉफ का होगा अधिकार…!

AD DESCRIPTION

जानिए क्या है पूरी प्रक्रिया
-भिलाई के प्रथम नागरिक महापौर नीरज पाल ने बताया कि पंजीयन के संबंध में जो निर्णय लिए गए हैं, उनके आधार पर सर्वप्रथम लीज धारकों को लीज एग्रीमेंट के आधार पर लीज डीड बनाकर बीएसपी के द्वारा जाएगा।
-इसमें नक्शा तथा लीज धारक का आधार कार्ड, पैन कार्ड के साथ लीज अनुभाग नगर सेवा विभाग में जमा करना होगा। जो दो प्रति में होंगा।
-जांच निर्धारकों के मूल फाइल से की जाएगी। जांच के पश्चात लीज डीड में बीएसपी के डायरेक्टर इंचार्ज के पावर ऑफ अटॉर्नी होल्डर द्वारा हस्ताक्षर किए जाएंगे।
-उसकी एक प्रति पंजीयन हेतु लीज धारक को प्रदान कर दी जाएगी।

ये खबर भी पढ़ें:   SAIL House Lease: 22 साल बाद भिलाई टाउनशिप में लीज रजिस्ट्री पास, आज से घरों में खुशियां ही खुशियां, मेयर नीरज पाल ने बताया अगला टार्गेट

-उसके पश्चात लीज धारक अपने लीज प्रीमियम एवं रेंट की राशि के आधार पर स्टांप ड्यूटी की गणना करेगा, जो उतना राशि का स्टांप खरीद कर अपने लीज डीड में संलग्न करेगा।
-छत्तीसगढ़ शासन के पंजीयन कार्यालय के पोर्टल में पंजीयन कराए जाने हेतु समय की मांग करेगा और पोर्टल में दिए गए समय की सूचना दिया जाएगा।
-इसी पावर ऑफ अटॉर्नी के आर्डर को दिया जाएगा और उसे उपरोक्त समय पर रजिस्ट्री ऑफिस में उपस्थित होने की सूचना भी दिया जाएगा।
-दो गवाहों के साथ पंजीयन कार्यालय में उपस्थित होना होगा। जिन दोनों गवाहों के पास उनका आधार कार्ड और पैन कार्ड होना भी महत्वपूर्ण है।
-उन्हें सब रजिस्ट्रार कार्यालय द्वारा लीज पंजीयन किया जाएगा।
-पंजीयन शुल्क स्केल इंचार्ज जमा कराया जाएगा। इसके 1 दिन बाद पंजीयन की रसीद दिखाने पर मूल पंजीयन लीज डीड की प्रति प्रदान कर दी जाएगी

इनका मिला पूर्ण सहयोग, अब रजिस्ट्री तक सफर
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा आदेश के परिपालन में विधायक देवेंद्र यादव और महापौर नीरज पाल का खास योगदान रहा। इसके अतिरिक्त कलेक्टर पुष्पेंद्र मीणा, निगम आयुक्त रोहित व्यास, डीआईसी बीएसपी अनिर्बान दासगुप्ता, जिला पंचायत पुष्प लता दुबे, सब रजिस्ट्रार कार्यालय दुर्ग और लीज अनुभाग बीएसपी के महाप्रबंधक विजय शर्मा का भी पूर्ण सहयोग इस कार्य के लिए मिला।