Suchnaji

SAIL BSP NEWS: सेक्टर 9 हॉस्पिटल में मोतियाबिंद, ग्लूकोमा, न्यूरोलॉजिकल के लिए आई ऑप्टिकल बायोमेट्री, पेरीमेट्री और फेकोइमल्सीफिकेशन मशीन

SAIL BSP NEWS: सेक्टर 9 हॉस्पिटल में मोतियाबिंद, ग्लूकोमा, न्यूरोलॉजिकल के लिए आई ऑप्टिकल बायोमेट्री, पेरीमेट्री और फेकोइमल्सीफिकेशन मशीन
  • मशीनों का उद्घाटन मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रभारी (एम एंड एचएस) डॉ रवींद्रनाथ एम ने किया।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र (SAIL- Bhilai Steel palnt) के पं. जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय एवं अनुसंधान केंद्र, सेक्टर-9, भिलाई (Pt. Jawaharlal Nehru Hospital and Research Centre, Sector-9, Bhilai) के नेत्ररोग विभाग में नई सौगात मरीजों को मिल गई है। अत्याधुनिक ऑप्टिकल बायोमेट्री, आटोमेटेड पेरीमेट्री और फेकोइमल्सीफिकेशन मशीनों का उद्घाटन मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रभारी (एम एंड एचएस) डॉ रवींद्रनाथ एम ने किया।

ये खबर भी पढ़ें : उत्पादन लक्ष्य हासिल करने SAIL RSP की नई पहल ‘BAAHAM-Working Together, बॉटम लाइन पर फोकस

AD DESCRIPTION

इस अवसर पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं विभाग (Medical and Health Services Department) के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ प्रमोद बिनायके, डॉ विनीता द्विवेदी और डॉ कौशलेंद्र ठाकुर तथा एसीएमओ (एम एंड एचएस) व विभागाध्यक्ष (नेत्ररोग) डाक्टर जयश्री प्रधान सहित अन्य वरिष्ठ चिकित्सक और बड़ी संख्या में पैरा-मेडिकल स्टाफ उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL Bokaro Stel Plant के स्कूलों ने CBSE 2023-24 रिजल्ट में मचाया धूम, पढ़िए डिटेल

ऑप्टिकल बायोमेट्री एक नॉन-इनवैसिव उपकरण है, जिसका उपयोग मोतियाबिंद सर्जरी के दौरान प्रत्यारोपण हेतु इंट्राओकुलर लेंस की क्षमता की गणना करने के लिए किया जाता है, जो रोगियों के लिए आप्टिमल विजुअल आउटकम परिणाम सुनिश्चित करता है।

ये खबर भी पढ़ें : राउरकेला स्टील प्लांट के कर्मचारी ले आए एक और अवॉर्ड, उत्पादकता उत्कृष्टता पुरस्कार 2024 में परचम लहराया

ऑटोमेटेड पेरीमेट्री मशीन का उपयोग ग्लूकोमा और अन्य न्यूरोलॉजिकल विकारों के निदान एवं उपचार प्रक्रिया में विजुअल फील्ड परीक्षण के लिए किया जाता है। वहीं उन्नत फेकोइमल्सीफिकेशन मशीन, मोतियाबिंद के उपचार हेतु अल्ट्रासोनिक कंपन का उपयोग करती है, जिससे सर्जरी के पश्चात द्रुत रिकवरी के साथ-साथ सर्जिकल परिणामों में भी सुधार होता है।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Steel Plant को मिला AI इनोवेशन के लिए Productivity Excellence Award 2024

नेत्र संबंधी विकारों के कुशलता से निदान का रास्ता खुला

अत्याधुनिक तकनीक से युक्त, पं. जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय एवं अनुसंधान केंद्र, भिलाई का नेत्ररोग विभाग, ऑप्टिकल बायोमेट्री, ऑटोमेटेड पेरीमेट्री और फेकोइमल्सीफिकेशन नवीनतम चिकित्सा उपकरणों के प्रयोग से नेत्र संबंधी विकारों के कुशलता से निदान व समय पर उपचार सुनिश्चित करने में सक्षम होगा।

ये खबर भी पढ़ें : इम्प्लाइज पेंशन स्कीम 1995: हायर पेंशन कैलकुलेशन पर बड़ी खबर, प्रो-रेटा और 60 माह के औसत पर बोला EPFO

जेएलएन अस्पताल का एक महत्वपूर्ण कदम

उल्लेखनीय है कि यह सुविधा चिकित्सालय में भिलाई और अन्य क्षेत्रों से आने वाले मरीजों को बेहतर निदान, सर्जरी और अन्य नेत्र-संबंधी उपचार प्रदान करके के लिए स्वास्थ्य सेवाओं को उन्नत की दिशा में जेएलएन अस्पताल का एक महत्वपूर्ण कदम है।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Township: बिजली बिल हाफ का लाभ सितंबर से जून 2024 तक मिलेगा उपभोक्ता को, BMS-प्रबंधन के बीच बड़ी बैठक