Suchnaji

भिलाई स्टील प्लांट का आया पक्ष: बोरिया गेट को बंद करने संग इन मुद्दों पर महामंथन, यूनियन ने मांगा समय, पढ़िए डिटेल

भिलाई स्टील प्लांट का आया पक्ष: बोरिया गेट को बंद करने संग इन मुद्दों पर महामंथन, यूनियन ने मांगा समय, पढ़िए डिटेल
  • सड़क दुर्घटनाओं से बचाव के लिए बी एस पी प्रबंधन और यूनियनों का विचार मंथन।
  • यातायात पुलिस सहायता केंद्र में पुलिस कर्मी की उचित उपस्थिति के लिए पुलिस प्रशासन से निवेदन का सुझाव।
  • बोरिया गेट से ही कार्मिकों के लिए प्रवेश प्रात: 9:30 से दोपहर 1 बजे तक बंद करने के सुझाव प्रस्तुत किए गए।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। बोरिया गेट और भिलाई इस्पात संयंत्र (Boria Gate and Bhilai Steel Plant) के प्रमुख द्वार के पास ट्रकों के अनियंत्रित पार्किंग के कारण संभावित दुर्घटनाओं को टालने के लिए एक बैठक भिलाई इस्पात संयंत्र की प्रमुख यूनियनों भिलाई इस्पात मज़दूर संघ (बीएमएस) (Bhilai Ispat Workers nion), स्टील इम्प्लाइज यूनियन (इंटक), हिन्दुस्तान स्टील ऐम्प्लोयीज़ यूनियन (सीटू), बीएसपी वर्कर्स यूनियन, लोकतांत्रिक इस्पात एवं इंजीनियरिंग मज़दूर यूनियन (लोइमू) के अध्यक्ष एवं महासचिव की बैठक मुख्य महाप्रबंधक कार्मिक संदीप माथुर की अध्यक्षता में हुई।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Township: बिजली बिल हाफ का लाभ सितंबर से जून 2024 तक मिलेगा उपभोक्ता को, BMS-प्रबंधन के बीच बड़ी बैठक

AD DESCRIPTION

बैठक में यूनियनों की ओर से चन्ना केशवलू , रवि सिंह, वंश बहादुर सिंह, विजय जांगड़े, एसपी डे, शिव बहादुर सिंह, सुरेंद्र मोहंती इत्यादि उपस्थित थे।
बैठक में मुख्यतः बोरिया गेट से संयंत्र के अंदर प्रवेश करने वाले ट्रकों के कारण यातायात में व्यवधान व रास्ता जाम होने के कारण संयंत्र में ड्यूटी जाने वाले कार्मिकों को देरी होना व दुर्घटना होने की आशंका होने के विषय पर चर्चा की गई।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL NEWS: देशभर में IVF का खर्च उठा रही कंपनियां, सेल के कर्मचारी-अधिकारी को भारी नुकसान

जानिए किन-किन विषयों पर चर्चा हुई

प्रबंधन द्वारा उपस्थित यूनियनों के सदस्यों को इस समस्या के समाधान के लिए कई वैकल्पिक सुझाव पर चर्चा की गई, जिसमें कार्मिकों के लिए बोरिया गेट से 200 मीटर की दूरी पर केवल कार्मिकों के प्रवेश के लिए भविष्य में नया गेट का निर्माण, बोरिया चौक पर संयंत्र के मेन गेट के भीतर की तरह पीली पट्टियों के साथ नो स्टॉप बॉक्स का निर्माण, यातायात पुलिस सहायता केंद्र में पुलिस कर्मी की उचित उपस्थिति के लिए पुलिस प्रशासन से निवेदन, बोरिया गेट से ही कार्मिकों के लिए प्रवेश प्रात: 9:30 से दोपहर 1 बजे तक बंद करने के सुझाव प्रस्तुत किए।

प्रबंधन द्वारा इक्विपमेंट चौक से इस्पत्त भवन के समीप चौक तक खड़े ट्रकों के लिए प्रवेश का समय प्रात: 7:30 बजे से शुरू करने की भी बात रखी गई।

ये खबर भी पढ़ें : Gold-Silver Price: अक्ष्य तृतीया के बाद औंधे मुंह गिरा सोने का भाव, बढ़े चांदी के तेवर, देखें आज का रेट

प्रबंधन ने कहा-यूनियन ने समय मांगा है…

इन प्रस्तावित अधिकतर सुझावों के संबंध में यूनियनों द्वारा अपनी सहमति व्यक्त की और बोरिया गेट से संयंत्र में प्रवेश के लिए समय को बढ़ाने की बात करते हुए इस मुद्दे पर यूनियन द्वारा आपस में चर्चा करने हेतु अतिरिक्त समय की मांग की।

सभी प्रतिभागी सुरक्षा के संदर्भ में हर संभव सहायता देने पर सहमत दिखे। प्रबंधन ने यूनियनों के प्रश्नों का उत्तर दिया और विस्तार से सड़क सुरक्षा पर चर्चा की।

ये खबर भी पढ़ें : EPFO BIG NEWS: शिक्षा, विवाह और आवास के लिए ऑटो क्लेम सॉल्यूशन, 10 नहीं, 3 दिन में लीजिए घर बैठे पैसा

बैठक में प्रबंधन से यह अधिकारी रहे मौजूद

इस बैठक का संचालन जेएन ठाकुर महाप्रबंधक (कार्मिक-आई आर व सीएलसी) द्वारा किया गया। बैठक में विकास चंद्रा उपमहाप्रबंधक (कार्मिक-आई आर व सीएलसी), रोहित हरित वरिप्रबंधक (कार्मिक-आई आर व सीएलसी) और एम विवि प्रसाद प्रबंधक (कार्मिक) भी उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें : छत्तीसगढ़ न्यूज: राज्य पात्रता परीक्षा के लिए ऑनलाईन आवेदन 9 जून तक