Suchnaji

SAIL Feedback Scheme में 12 हजार, Great Place To Work सर्वे में महज 1400 कार्मिक, नौकरी की चाहत कितनी आएगी रिपोर्ट

SAIL Feedback Scheme में 12 हजार, Great Place To Work सर्वे में महज 1400 कार्मिक, नौकरी की चाहत कितनी आएगी रिपोर्ट
  • सर्वे से यह पता चलता है कि किस कंपनी में नौकरी पाने की लोगों के बीच में चाहत किस क्रम में है। सीटू पदाधिकारियों के साथ बैठक।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (Steel Authority of India Limited)-सेल (SAIL) अपनी छवि को बेहतर करने के लिए बड़े पैमाने पर काम कर रही है। दुनिया में अच्छी रेटिंग के लिए ठोस काम किया जा रहा है। प्रतियोगिता और सर्वे में बेहतर तरीके से मैदान में उतरा गया है। SAIL Feedback Scheme और Great Place To Work सर्वे में कंपनी क्या कर रही है, इसकी जानकारी साझा की गई है।

AD DESCRIPTION R.O. No. 12697/ 111

ये खबर भी पढ़ें : Film News: भिलाई स्टील प्लांट के मंच पर रोकर गए अनुराग बसु, पढ़िए खबर

AD DESCRIPTION R.O. No.12697/ 111

भिलाई स्टील प्लांट (Bhilai Steel Plant) के सीजीएम पर्सनल संदीप कुमार माथुर ने बीएसपी ट्रेड यूनियन नेताओं के साथ बातचीत में यह जानकारी साझा की। सीटू के सहायक महासचिव एसएसके पनिकर के मुताबिक SAIL Feedback Scheme में भिलाई इस्पात संयंत्र के 12,000 कर्मी अधिकारी भाग लिए हैं।

ये खबर भी पढ़ें : Bokaro Steel Plant: नए सफ़र की शुरुआत, रिटायरमेंट के बाद ये कीजिए खास

इसी तरह Great Place To Work Institute  द्वारा आयोजित  सर्वे  में इस बार SAIL भी भाग ले रहा है, जिसके लिए 1400 कर्मियों को चुना गया है।
यह एक तरह का Ranking System है, जिसके तहत यह निजी एजेंसी भाग लेने वाली कंपनियों के कर्मियों से प्राप्त फीडबैक के आधार पर भाग लेने वाली कंपनियों को Ranking देती है, जिससे यह पता चलता है कि किस कंपनी में नौकरी पाने की लोगों के बीच में चाहत किस क्रम में है।

ये खबर भी पढ़ें : Rourkela Steel Plant: कर्मचारियों की पत्नी जी पहुंचीं प्लांट, नजदीक से देखा प्रोडक्शन

फर्जी गेट पास मामले पर प्रबंधन का रुख

यूनियन की ओर से फर्जी गेट पास मामले में प्रबंधन द्वारा गंभीरता से जांच नहीं करवाए जाने पर तथा सतही जांच कर एक कर्मी को बलि का बकरा बनाकर निष्कासन जैसे कठोर दंड से दंडित किए जाने पर आपत्ति की। और इस मामले के सभी पहलुओं की गंभीरता से  जांच करवाने की मांग की।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Steel Plant: टाउनशिप में मीटर रीडिंग लेने वाले श्रमिकों को नहीं मिला 4 महीने से वेतन

चुनाव ड्यूटी और C/Off

सीजीएम पर्सनल के साथ मीटिंग में चुनाव ड्यूटी में प्रतिनियुक्ति में गए कार्मिकों के C/Off का मामला भी उठाया गया। प्रबंधन से यह मांग की गई कि बीते विधानसभा चुनाव में प्रतिनियुक्ति पर गए कार्मिकों को C/Off लेने की बाध्यता 31 दिसंबर 2023 के पहले तक नहीं होनी चाहिए।

 प्रबंधन ने कहा कि इस संबंध में चुनाव आयोग की ओर से दिशा निर्देश प्राप्त होते ही तदनुरूप संबंधित कर्मियों को अवकाश एवं अन्य लाभ दिया जाएगा।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Steel Plant: यूनिवर्सल रेल मिल के अधिकारी-कर्मचारियों को मिला शिरोमणि पुरस्कार