Suchnaji

EPFO से एक और बड़ी खबर, 14 लाख सदस्यों का आया आंकड़ा

EPFO से एक और बड़ी खबर, 14 लाख सदस्यों का आया आंकड़ा

ईपीएफओ ने नवंबर 2023 के दौरान 13.95 लाख नेट सदस्य जोड़े। 

सूचनाजी न्यूज, दिल्ली। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees Provident Fund Organisation) से एक बड़ी खबर आ रही है। ईपीएफओ पर लगातार उठ रहे सवालों के बीच एक सकारात्मक खबर आ गई। 20 जनवरी को जारी ईपीएफओ के प्रोविजनल पेरोल डेटा के अनुसार ईपीएफओ ने नवंबर 2023 में 13.95 लाख नेट मेंबर्स जोड़े हैं। चालू वित्त वर्ष के दौरान सदस्यों का संचयी नेट जोड़ पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में अधिक बना हुआ है।

AD DESCRIPTION

आंकड़ों से पता चलता है कि नवंबर, 2023 के दौरान लगभग 7.36 लाख नए सदस्यों ने नामांकन किया है। नए शामिल हुए सदस्यों में, 18-25 वर्ष के आयु वर्ग के लोग महीने के दौरान जोड़े गए कुल नए सदस्यों का 57.30 प्रतिशत हैं, जो दर्शाता है कि शामिल हो रहे अधिकांश सदस्य देश के संगठित क्षेत्र का कार्यबल युवा हैं, और उनमें भी ज्यादातर पहली बार नौकरी पा रहे हैं।

पेरोल डेटा दर्शाता है कि लगभग 10.67 लाख सदस्य बाहर निकल गए लेकिन ईपीएफओ में फिर से शामिल हो गए। वास्तव में, इन सदस्यों ने अपनी नौकरी बदल ली और ईपीएफओ के दायरे में आने वाले प्रतिष्ठानों में फिर से शामिल हो गए और अंतिम निपटान के लिए आवेदन करने के बजाय अपनी जमा पूंजी को ट्रांसफर करने का विकल्प चुना, जिससे उनकी सामाजिक सुरक्षा बढ़ गई।

जेंडर-वाइज विश्लेषण

पेरोल डेटा के जेंडर-वाइज विश्लेषण से पता चलता है कि महीने के दौरान जोड़े गए कुल 7.36 लाख नए सदस्यों में से लगभग 1.94 लाख नई महिला सदस्य हैं, जो पहली बार ईपीएफओ में शामिल हुई हैं।

इसके अलावा, महीने के दौरान नेट महिला सदस्यों की संख्या करीब 2.80 लाख रही। नेट ग्राहक वृद्धि में से नेट महिला सदस्यों का प्रतिशत 20.05 प्रतिशत रहा, जो सितंबर, 2023 के बाद से सबसे अधिक है, जो संगठित क्षेत्र के कार्यबल में महिला कर्मचारियों की बढ़ती भागीदारी को दर्शाता है।

महाराष्ट्र, तमिलनाडु, कर्नाटक, हरियाणा और दिल्ली में सबसे अधिक मेंबर्स

पेरोल डेटा के राज्य-वार विश्लेषण से पता चलता है कि नेट सदस्य वृद्धि 5 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों जैसे महाराष्ट्र, तमिलनाडु, कर्नाटक, हरियाणा और दिल्ली में सबसे अधिक है। इन राज्यों में नेट सदस्य वृद्धि का लगभग 58.81 प्रतिशत योगदान है, जिससे महीने के दौरान कुल 8.20 लाख सदस्य जुड़े। सभी राज्यों में से, महाराष्ट्र महीने के दौरान 21.60 प्रतिशत नेट सदस्य जोड़कर सबसे आगे रहा है।

कृषि फार्मों, कॉफी बागानों, चीनी, रबर बागानों, टाइल्स प्रतिष्ठानों में बढ़े सदस्य

उद्योग-वार डेटा की महीने-दर-महीने तुलना कृषि फार्मों, कॉफी बागानों, चीनी, रबर बागानों, टाइल्स आदि में लगे प्रतिष्ठानों में काम करने वाले सदस्यों में महत्वपूर्ण वृद्धि दर्शाती है। कुल नेट सदस्यता में से, लगभग 41.94 प्रतिशत वृद्धि विशेषज्ञ सेवाओं (जनशक्ति आपूर्तिकर्ताओं, सामान्य ठेकेदारों, सुरक्षा सेवाओं, विविध गतिविधियों आदि से मिलकर) की है।

उपरोक्त पेरोल डेटा प्रोविजनल है क्योंकि डेटा जनरेशन और कर्मचारी रिकॉर्ड को अपडेट करना एक सतत प्रक्रिया है। इसलिए पिछला डेटा हर महीने अपडेट किया जाता है।

सदस्यों के रूप में फिर से शामिल हो गए

अप्रैल-2018 के महीने से, ईपीएफओ सितंबर, 2017 के बाद की अवधि को कवर करते हुए पेरोल डेटा जारी कर रहा है। मासिक पेरोल डेटा में, आधार मान्य यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) के माध्यम से पहली बार ईपीएफओ में शामिल होने वाले सदस्यों की गिनती, ईपीएफओ के कवरेज से बाहर निकलने वाले मौजूदा सदस्य और जो बाहर निकल गए, लेकिन सदस्यों के रूप में फिर से शामिल हो गए, उन्हें नेट मासिक पेरोल पर पहुंचने के लिए लिया जाता है।