Suchnaji

EPS 95 पेंशन पर बड़ा फैसला: 12 को EPFO कार्यालय का घेराव करेंगे पेंशनर्स

EPS 95 पेंशन पर बड़ा फैसला: 12 को EPFO कार्यालय का घेराव करेंगे पेंशनर्स

ईपीएस 95 पेंशनर्स से अपील की गई है कि 12 जनवरी को अनिवार्य रूप से 11 बजे तक भविष्य निधि संगठन कार्यालय रायपुर के समक्ष पहुंचें।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। आप सब जानते हैं कि ईपीएस 95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति पिछले कई वर्षों से ईपीएस 95 पेंशनरों के हित की लड़ाई लगातार लड़ रही है। इसी बीच 12 जनवरी 2024 दिन शुक्रवार को पूरे देश के समस्त भविष्य निधि संगठन कार्यालय के समक्ष पेंशनर्स के हितों के प्रति सरकार की उदासीनता के मद्दे नजर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें :  Pension Latest News: सरकार ने महिला कर्मचारियों के पति-बच्चों की पेंशन पर लिया यह फैसला, पढ़िए EPFO का डिटेल

धरना प्रदर्शन के बाद भविष्य निधि आयुक्त को रोजगार एवं श्रम मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा जाएगा। छत्तीसगढ़ के सभी ईपीएस 95 पेंशनर्स से अपील की गई है कि 12 जनवरी को अनिवार्य रूप से 11 बजे तक भविष्य निधि संगठन कार्यालय रायपुर के समक्ष पहुंचें।

ये खबर भी पढ़ें :  EPFO ने EPS 95 हायर पेंशन के लिए फॉर्मूला A और C किया मर्ज, पढ़िए डिटेल

ईपीएस 95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति छत्तीसगढ़ राज्य अध्यक्ष एलएम सिद्दीकी का कहना है कि धरना प्रदर्शन में सम्मिलित होकर अपनी एकता को प्रदर्शित करें। सरकार को अपनी ताकत का एहसास करवाएं, ताकि ईपीएफओ मांगों को मानने के लिए विवश हो जाए।

ये खबर भी पढ़ें :  E0 Exam Big News: 25 नंबर का प्लांट-यूनिट Specific Segment हटा

7 दिसंबरको रामलीला मैदान नई दिल्ली में एक दिनी धरना प्रदर्शन किया गया, जिसमें एक लाख से अधिक लोग सम्मिलित हुए। 8 दिसंबर से 14 दिसंबर तक शृंखला अनशन भी चला। मगर बाद में हेमा मालिनी के हस्तक्षेप और रोजगार एवं श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव के आश्वासन के बाद अनशन को अस्थाई तौर पर रोक दिया गया।

ये खबर भी पढ़ें :  Exclusive News: EPS 95 Higher Pension 73 हजार 225 रुपए, EPFO ने चौकाया

अनशन स्थल पर भी भूपेंद्र यादव पहुंचे

कुछ दिनों पूर्व 5 से अधिक वर्षों से बुलढाना महाराष्ट्र में चल रहे अनशन स्थल पर भी भूपेंद्र यादव पहुंचे और बहुत जल्दी सकारात्मक निर्णय लिए जाने का आश्वासन पुनः दिया।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 उच्च पेंशन: EPFO के फॉर्मूले पर SAIL कर्मी की पेंशन बन रही 44795 रुपए

अभी तक संबंधित मंत्री द्वारा पेंशनर्स के हित में कोई ठोस कदम उठाया गया प्रतीत नहीं होता। अतः केंद्रीय राष्ट्रीय संघर्ष समिति द्वारा निर्णय लिया गया है कि जंतर मंतर नई दिल्ली में 30 जनवरी से पुनः क्रमिक भूख हड़ताल/अनशन प्रांतवार प्रारंभ किया जाएगा। 8 फरवरी को जंतर मंतर में छत्तीसगढ़ के पेंशनर्स अनशन में बैठेंगे।

ये खबर भी पढ़ें : मैत्रीबाग में सफ़ेद बाघों के कुनबे में 2 नए मेहमान, दीदार 5 जनवरी से

मूल रूप से निम्नलिखित मांगें हैं

1. न्यूनतम पेंशन को एक हजार रुपए से बढ़ाकर साढ़े सात हजार रुपए करना।
2. सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का ईमानदारी से त्वरित गति से निपटाना। जिन सदस्यों ने डिमांड लेटर के मुताबिक राशि जमा कर दी है, उनको तत्काल प्रभाव से उच्च पेंशन देने की शुरुआत करना।
3. लंबित पड़े हुए उच्च पेंशन के आवेदनों का शीघ्र निराकरण करना।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95: लोकसभा चुनाव से पहले आंदोलन की नई तारीख, देशभर में पेंशनर्स करेंगे भूख हड़ताल, पढ़िए डिटेल

4. “अंतर की राशि “को ब्याज सहित जमा करवा रहे हैं, तो एरियर्स की राशि में भी ब्याज दिया जाए।
5. डिमांड लेटर में संभावित उच्च पेंशन की राशि का विवरण।
6. विधवा पेंशन को सौ प्रतिशत करने की प्रक्रिया शुरू करें।
7. चिकित्सीय सुविधा सभी ईपीएस 95 पेंशनर्स को निःशुल्क देना।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 पेंशनर्स: हायर पेंशन की कौन कहे, न्यूनतम पेंशन में भी बड़ा लोचा