Suchnaji

Bokaro Steel Plant से बड़ी खबर: कब्जेदारों को उखाड़ फेंकने की मुहिम शुरू, पढ़िए LIVE खबर

Bokaro Steel Plant से बड़ी खबर: कब्जेदारों को उखाड़ फेंकने की मुहिम शुरू, पढ़िए LIVE खबर
  • संपदा न्यायालय से आदेश पारित होने के बाद एक्शन लिया जा रहा है।

सूचनाजी न्यूज, बोकारो। सेल (SAIL) बोकारो स्टील प्लांट (Bokaro Ste) से बड़ी खबर आ रही है। अतिक्रमणकारियों के खिलाफ जंग शुरू हो गई है। गुरुवार साढ़े 11 बजे से इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट का अमला कब्जा तोड़ने की मुहिम को शुरू कर चुका है। आधा दर्जन जेसीबी, 200 पुलिस व होम गार्ड के जवान, 50 से ज्यादा बीएसएल के अधिकारी-कर्मचारी सड़क पर उतरे हुए हैं।

AD DESCRIPTION R.O. No. 12697/ 111

ये खबर भी पढ़ें :  Assembly Election-2023: खबरदार…! अगर, किसी सियासी पार्टी ने इस्तेमाल किया ये…

AD DESCRIPTION R.O. No.12697/ 111

वरिष्ठ अधिकारियों से लेकर कर्मचारियों ने होलमेट लगाया हुआ है। पिछली बार कार्रवाई के दौरान पथराव किया गया था, जिसकी चपेट में आने से जीएम व होम गार्ड के जवान जख्मी हो गए थे।

ये खबर भी पढ़ें :  Bokaro Steel Plant में झारखंड ग्रुप ऑफ माइंस यूनियन मीट, जानिए हुआ क्या

बोकारो आफिसर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष व जीएम एके सिंह खुद मौके पर मौजूद हैं। इन्हीं के ऊपर पिछले दिनों पथराव हुआ था। इस बार भी वही लीड कर रहे हैं। सड़क से 30 मीटर के दायरे में जो अवैध निर्माण है, उसको तोड़ा जा रहा है। मजदूर मैदान की तरफ कार्रवाई की जा रही है।

ये खबर भी पढ़ें :  Bokaro Steel Plant: कब्जेदारों ने GM संग टीम पर पथराव कर BSL को जगाया, कल से अतिक्रमणकारियों पर दिखेगा कहर

बोकारो स्टील प्लांट प्रबंधन ने कब्जेदारों के खिलाफ बड़े पैमाने पर कार्रवाई शुरू की है। संपदा न्यायालय से आदेश पारित होने के बाद एक्शन लिया जा रहा है। पिछले दिनों कब्जेदारों द्वारा पथराव की घटना से प्रबंधन हरकत में आ गया है।

ये खबर भी पढ़ें :  BSP कर्मचारी आत्महत्या केस में बड़ा अपडेट, Bokaro में होगा अंतिम संस्कार, कौन थी फोन करने वाली…

बीएसएल प्रबंधन (BSL Management) की ओर से 10 अक्टूबर को ही सार्वजनिक सूचना जारी की गई थी। सम्पदा न्यायालय बोकारो स्टील सिटी (Bokaro Steel City) द्वारा पारित आदेशों के आलोक में बोकारो स्टील सिटी (Bokaro Steel City) सेक्टर-4 मजदूर मैदान के उत्तर और बोकारो जनरल अस्पताल (Bokaro General Hospital) चौराहे के बीच सभी अवैध कब्जाधारियों को खाली कराया जा रहा है। बेदखली आदेश (Eviction/Demolition Orders) पारित होने के बाद बीएसएल प्रबंधन ने जिला पुलिस से मदद लिया।

ये खबर भी पढ़ें : ISP बर्नपुर डिप्लोमा इंजीनियर्स एसोसिएशन ने लिया बड़ा फैसला, पढ़िए पदनाम पर क्या हुआ

सभी कब्जेदारों को सूचित कर दिया गया था कि अवैध कच्चा-पक्का झुग्गी-झोपडी, गुमटी एवं दुकान, किसी भी तरह का अवैध निर्माण हटा लें। अनाधिकृत स्थल/भूखण्ड अतिशीघ्र खाली कर दें। अन्यथा इन्हें बेदखली प्रक्रिया के तहत हटा दिया जाएगा और किसी भी तरह की क्षति के लिए वे स्वयं जिम्मेदार होंगे। इसी नोटिस पर अमल करते हुए बीएसएल के नगर सेवाएं विभाग ने कार्रवाई शुरू कर दी है।

ये खबर भी पढ़ें : ISP बर्नपुर डिप्लोमा इंजीनियर्स एसोसिएशन ने लिया बड़ा फैसला, पढ़िए पदनाम पर क्या हुआ