Suchnaji

SAIL LTA-LTC पर दायर परिवाद, नियमानुसार नहीं थी कटौती…!

SAIL LTA-LTC पर दायर परिवाद, नियमानुसार नहीं थी कटौती…!
  • प्रबंधन द्वारा अपने जवाब में कॉरपोरेट ऑफिस दिल्ली का एक आदेश प्रस्तुत किया, जिसमें प्रबंधन ने स्वयं माना कि इस प्रकार की कटौती नियमानुसार नहीं है।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। जिन बीएसपी कर्मचारियों (BSP Employees) ने एलटीए/एलटीसी की राशि का नगदीकरण वित्तीय वर्ष 2021-2023 के लिए आवेदन कर नगदीकरण लिया था, उसके संपूर्ण राशि की रिकवरी दिसंबर 2022 से फरवरी 2023 के बीच बीएसपी प्रबंधन (BSP Management) द्वारा की गई थी।

AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें : SAIL Bhilai Steel Plant के 567 अधिकारियों-कर्मचारियों के हिस्से आया जवाहर, नेहरू और जवाहर लाल नेहरू ग्रुप अवॉर्ड, पढ़िए नाम

फरवरी माह में इस प्रकार कटौती को गलत मानते हुए भिलाई श्रमिक सभा एचएमएस यूनियन द्वारा उपमुख्य श्रमायुक्त केंद्रीय रायपुर के समक्ष परिवाद दायर कर चुनौती दी गई थी, जिसकी सुनवाई अप्रैल,जून, जुलाई माह में तीन बार हुई थी। इसमें प्रबंधन द्वारा अपने जवाब में कॉरपोरेट ऑफिस (Corporate Office) दिल्ली का एक आदेश प्रस्तुत किया, जिसमें प्रबंधन ने स्वयं माना कि इस प्रकार की कटौती नियमानुसार नहीं है।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL Bhilai Steel Plant के 567 अधिकारियों-कर्मचारियों के हिस्से आया जवाहर, नेहरू और जवाहर लाल नेहरू ग्रुप अवॉर्ड, पढ़िए नाम

कर्मचारी यूनियन एचएमएस (Employee Union HMS) के महासचिव प्रमोद कुमार मिश्र ने कहा कि ब्लॉक वर्ष-2014 में हुए वेतन समझौते के अनुसार 1 अप्रैल 2019 से 31 मार्च 2023 तक 4 वर्ष का ब्लॉक वर्ष बनाया गया था, जिसमें दो वर्षों के लिए दो सब ब्लॉक वर्ष बनाए गए थे।
1) 1 अप्रैल 2019 से 31 मार्च 2021
2) 1 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2023

ये खबर भी पढ़ें : SEWA को लेकर बड़ा बवाल, BSP के इन कार्मिकों के परिवार को मिल रहा 50 लाख

जिसमें कर्मचारी को किसी भी सब ब्लॉक वर्ष में एक बार एलटीसी या एलटीए नगदीकरण लेने का प्रावधान था।

किस प्रकार दिया जा रहा था एलटीए/ एलटीसी नगदीकरण:

एलटीए- इसमें ग्रेड के अनुसार तीन स्लैब बनाए गए थे।

S1 से S5- 30 हजार
S6 से S8- 36 हजार
S9 से S11- 43 हजार

ये खबर भी पढ़ें : SAIL हड़ताल में शामिल होने का फैसला 20 जनवरी की NJCS मीटिंग पर टिका,  Bokaro से बड़ी खबर

एलटीसी-कर्मचारी, पत्नी एवं दो बच्चों को 750 किलोमीटर एसी सेकंड की यात्रा के टिकट के बराबर की प्रतिपूर्ति दी जाती थी।

एलटीए/एलटीसी लेने के लिए कर्मचारियों को 3 दिन की छुट्टी लेनी होती थी एवं बिना यात्रा में गए नगदीकरण दिया जाता था।

ये खबर भी पढ़ें : छत्तीसगढ़ मंत्रिपरिषद का फैसला: सीएम विष्णु देव साय सरकार ने दी राहत

नहीं की जा सकती संपूर्ण राशि की रिकवरी

कॉरपोरेट ऑफिस (Corporate Office) के द्वारा जारी आदेश के अनुसार यह कहा गया है कि सब ब्लॉक वर्ष 2019-2021 को समाहित कर लिया गया है लेकिन वर्ष 2021-2023 ब्लॉक वर्ष में एलटीए/एलटीसी नगदीकरण की राशि को 24 माह में विभाजित कर वेरिएबल पर्क मिलने के पूर्व तक यानी आठ माह (1 अप्रैल 2021 से 18 नवंबर 2021) की राशि को कर्मचारियों को दिया जाना है।

ये खबर भी पढ़ें : भिलाई स्टील प्लांट के कर्मचारियों को मिलता था गिफ्ट, लंबे समय से बंद, फिर से करें चालू

यदि कर्मचारियों ने एलटीए/एलटीसी नगदीकरण ले लिया है तो 8 माह की राशि को छोड़कर बाकी राशि की रिकवरी की जानी है। जो कर्मचारी इस बीच सेवानिवृत्त हुए हैं। उन्हें अप्रैल से लेकर जिस माह में सेवानिवृत हुए हैं, उन्हें उस माह तक की राशि सेवानिवृत्त कर्मचारियों को दिया जाना है।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Steel Plant में प्रवेश करने वाले वाहनों, नंबर प्लेटों की स्कैनिंग अब होगी, CCTV Surveillance System लांच

क्या है वर्तमान स्थिति

भिलाई श्रमिक सभा एचएमएस के महासचिव प्रमोद कुमार मिश्र ने बताया कि इस संबंध में दायर परिवाद में जुलाई के पश्चात प्रबंधन सुनवाई में उपस्थित नहीं हो रहा है। परिवाद की सुनवाई से बचने का प्रयास किया जा रहा है। अपने ही आदेश का उल्लंघन किया जा रहा  है। इन तमाम विषयों को लेकर सीजीएम पर्सनल संदीप कुमार माथुर और जीएम आईआर जेएन ठाकुर से चर्चा की गई है।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95: तिलमिलाए पेंशनर्स ने कहा-EPFO के पूरे विभाग को करें बर्खास्त, पेंशन सूत्र में हो संशोधन