Suchnaji

Bhilai Steel Plant में डकैती, कर्मचारियों के गर्दन पर धारदार हथियार रखकर लूटपाट

Bhilai Steel Plant में डकैती, कर्मचारियों के गर्दन पर धारदार हथियार रखकर लूटपाट

बीएसपी वर्कर्स यूनियन के पदाधिकारी पहुंचे घटनास्थल पर।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट से बड़ी खबर आ रही है। चोरों ने प्लांट के अंदर कर्मचारियों को ही शिकार बना लिया। डाका डाला और गर्दन पर धारदार हथियार रखकर मोबाइल और पर्स लूट लिए।

AD DESCRIPTION

बीएसपी वर्कर्स यूनियन के सदस्यों ने घटनास्थल का दौरा किया। आरएमपी 3 का दौरा कर कर्मचारियों की  सुरक्षा पर जताई चिंता। विभाग प्रमुख के साथ आवश्यक बैठक की। बड़ी संख्या में विभागीय कर्मचारी बैठक में उपस्थित रहे।

शुक्रवार की दरम्यानी रात भिलाई इस्पात संयंत्र के आरएमपी 3 विभाग में एक घटना घटी, जिसमें जनरल रेस्ट रूम सेड के अंदर  8 से 10 की संख्या में चोरों ने घुसकर वहां पर उपस्थित कर्मचारियों के गर्दन पर धारदार हथियार रखकर उनके पास से मोबाइल रूपए पैसे छीन कर ले गए। खुलेआम डाका डालने की तर्ज पर बिना खौप के  धमकी देते हुए चोरों ने कर्मचारियों को कहा जिसके पास जो हो निकाल कर दे दो, वरना गला काट देंगे।

अपनी जान को खतरे में देख कर्मचारियों ने अपने पास रखे सामान सौंप दिया। इस घटना की जानकारी विभाग के कर्मचारियों द्वारा बीएसपी वर्कर्स यूनियन को दी गई।

सीआइएसएफ सुरक्षा पोस्ट नहीं

बीएसपी वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष उज्जवल दत्ता के नेतृत्व में यूनियन का प्रतिनिधिमंडल आरएमपी 3 के प्रभारी रतन मुखर्जी (महाप्रबंधक प्रभारी) के साथ कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर  बैठक किया। यूनियन अध्यक्ष उज्जवल दत्ता ने बताया कि आरएमपी 3  नया प्लांट है, जिसका मुख्य स्टोर भी वहां पर स्थित है।

लेकिन अब तक वहां पर सीआईएसएफ की  चेक पोस्ट नहीं है। जबकि यह विभाग ऐसी जगह पर है, जहां ओपन स्पेस है। जंगल झाड़ी चारों ओर से भरी पड़ी है, जो चोरों के लिए छुपने के लिए सहायक बनती है। कुछ छोटी बड़ी चोरी की घटनाएं पहले भी यहां पर होती रही हैं, लेकिन विभागीय प्रबंधन अभी तक सीआईएसएफ की सुरक्षा को लेकर अलर्ट नहीं हुआ है।

तीनों पाली में सुरक्षा की जरूरत

उन्होंने बताया कि उस एरिया में सीआईएसएफ के स्थाई पोस्ट की जरूरत है। जहां  तीनों पाली में सीआईएसएफ के जवान उपस्थित रहें। साथ ही सुरक्षा की दृष्टि से आरएमपी 3 विभाग के चारों ओर बाउंड्री वाल का  होना अतिआवश्यक दिख रहा है।

विभाग के कर्मचारियों ने यूनियन प्रतिनिधिमंडल को बताया कि जिस प्रकार से चोरों के हौसले बुलंद हैं। इसको देखते हुए उनके परिवार के बीवी बच्चे भी बहुत चिंतित हैं। वो लोग कहते हैं रात्रि पाली में आप ड्यूटी पर मत जाइए, क्योंकि वहां पर आपकी जान को खतरा है, छुट्टी ले लीजिए।

प्लांट के अंदर डकैती चालू हो गई…

उज्जवल दत्ता ने कहा उच्च प्रबंधन को इस दिशा में कुछ ठोस कदम उठाए जाने की जरूरत है, क्योंकि अब तक सिर्फ चोरी हो रही थी, लेकिन अब तो प्लांट के अंदर डकैती चालू हो गई है।

इस प्रकार की गतिविधियों पर और इनसे जुड़े लोगों पर नकेल नहीं लगाई गई तो आने वाला समय प्लांट के लिए एवं यहां पर काम करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों एवं ठेका श्रमिकों के लिए बहुत ही दर्दनाक स्थिति पैदा करने वाला हो जाएगा।

घटना ठेका श्रमिकों के साथ हुई

यूनियन के कार्यकारी महासचिव शिव बहादुर सिंह ने कहा कि आरएमपी 3 के अधिकारी, कर्मचारी जान जोखिम में डालकर अपनी ड्यूटी करने के लिए मजबूर हैं। यह घटना अभी ठेका श्रमिकों के साथ हुई है, लेकिन क्या पता आगे किसी के भी साथ  हो सकती है।

ऐसे दहशत भरे माहौल में कर्मी कब तक कार्य कर पाएंगे। तनाव में कोई बड़ी दुर्घटना भी घट सकती है। उन्होंने कहा कि  जिस शेड के अंदर ठेका श्रमिकों के साथ लूटपाट की यह घटना हुई, उसके दरवाजे को अंदर  से बंद करने के लिए कोई ठोस  प्रबंध नहीं है।

रात्रि पाली में सीआईएसएफ पेट्रोलिंग कर रही

बैठक में उपस्थित महाप्रबंधक प्रभारी रतन मुखर्जी ने यूनियन प्रतिनिधिमंडल को बताया कि इस पूरे घटना की जानकारी उच्च प्रबंधन एवं सीआईएसएफ को दे दी गई है। रात्रि पाली में सीआईएसएफ पेट्रोलिंग कर रही है।

उन्होंने कहा सीआईएसएफ की स्थाई पोस्ट के लिए प्रयास किया जा रहा है। विभाग में चारों तरफ से बाउंड्री वॉल करने के लिए यूनियन की मांग पर उन्होंने कहा कि इस दिशा में भी उच्च प्रबंधन से चर्चा कर बाउंड्री वॉल बनाने का प्रयास किया जाएगा।

प्रबंधन और यूनियन से ये लोग रहे मौजूद

बैठक में प्रमुख रूप से प्रबंधन की तरफ से महा प्रबंधक प्रभारी रतन मुखर्जी, महाप्रबंधक मैकेनिकल सुशांत पाल, महाप्रबंधक ऑपरेशन डीगेंद्र कुमार वर्मा तथा यूनियन की ओर से अध्यक्ष उज्ज्वल दत्ता, कार्यकारी महासचिव शिव बहादुर सिंह, उप महासचिव जितेंद्र यादव, सहायक महासचिव विमल कांत पांडे, कन्हैयालाल अहिरे, राजकुमार सिंह, सचिव डीप सिंह एवं आरएमपी 3 के विभागीय कर्मचारी अशोक चौधरी, पदम लोचन, विनोद, अमित, नवीन यूके, मुकेश ,मंगेश चौहान, मुरली विश्वकर्मा, सुधाकर, नीलकमल, सरदार जी, स्वामीनाथन, कमलेश, संजय, पंकज वर्मा आदि उपस्थित थे।