Suchnaji

राउरकेला स्टील प्लांट: कर्मचारी चढ़े 40 फीट ऊंचे रैपलिंग टॉवर पर, की ऑस्ट्रेलियाई सैर, सुरंग में रेंगते रहे और की बंदर कूद

राउरकेला स्टील प्लांट: कर्मचारी चढ़े 40 फीट ऊंचे रैपलिंग टॉवर पर, की ऑस्ट्रेलियाई सैर, सुरंग में रेंगते रहे और की बंदर कूद
  • आरएसपी के निदेशक प्रभारी एवं बोकारो स्टील प्लांट के अतिरिक्त प्रभार अतनु भौमिक के द्वारा उद्घाटन किया गया।

सूचनाजी न्यूज, राउरकेला। सेल, राउरकेला इस्पात संयंत्र (आरएसपी) (SAIL, Rourkela Steel Plant (RSP)) के पेशेवर विकास और टीम की गतिशीलता को बढ़ाने के उद्देश्य से एक अनूठी पहल में विभिन्न विभागों के पुरुषों और महिलाओं सहित 25 कर्मचारियों ने 29 जनवरी से 3 फरवरी तक आयोजित ‘जोश’ नामक आउटबाउंड लर्निंग कार्यक्रमों में भाग लिया।

AD DESCRIPTION

 ये खबर भी पढ़ें : SAIL BSP कर्मचारियों-अधिकारियों के बच्चों पर धनवर्षा, 25 हजार तक आ रहा खाते में, मम्मी-पापा भी पहुंचे

3 बैच में आयोजित कार्यक्रम के लिए टाटा स्टील एडवेंचर फाउंडेशन (टी.एस.ए.एफ.) (Tata Steel Adventure Foundation (TSAF)) द्वारा विशेषज्ञ सहायता प्रदान की गई।

तीनों कार्यक्रम अत्यंत सुरक्षा के साथ आयोजित किए गए और मंदिरा डैम परिसर में स्थित मरोरम ‘उमंग’ में उल्लेखनीय सफलता हासिल की। उल्लेखनीय रूप से, पिछले साल आर.एस.पी. के निदेशक प्रभारी एवं बोकारो स्टील प्लांट के अतिरिक्त प्रभार अतनु भौमिक के द्वारा उद्घाटन की गई यह सुविधा परिवर्तनकारी गतिविधियों के लिए एक आदर्श माहौल प्रदान करती है।

ये खबर भी पढ़ें : Rourkela Steel Plant ने अपने खाते में जोड़े कई रिकॉर्ड, पढ़िए डिटेल

गौरतलब है कि, आउटबाउंड लर्निंग पहल एक समग्र विकास दृष्टिकोण पर केंद्रित है, जो नेतृत्व, संचार कौशल, प्रदर्शन में वृद्धि, योजना, परिवर्तन प्रबंधन, प्रतिनिधिमंडल, टीम वर्क और प्रेरणा जैसे प्रमुख पहलुओं को संबोधित करती है। प्रतिभागियों के पेशेवर कौशल सेट में सकारात्मक बदलाव लाने और सहयोगात्मक कार्य वातावरण को बढ़ावा देने के अनुरूप पाठ्यक्रम तैयार किया गया है।

सभी कार्यक्रम सहायक महाप्रबंधक (एच.आर.डी.) केके.जयसवाल और उप प्रबंधक (एच.आर.डी.) एसके.शुक्ला के मार्गदर्शन में सुरक्षित और सफलतापूर्वक आयोजित किए गए।

ये खबर भी पढ़ें : ईपीएस 95 पेंशन पर मन की बात: सभी पेंशनभोगी एकजुट होकर शत-प्रतिशत मतदान करें, कोई नोटा या बहिष्कार नहीं

आप भी जानिए किस तरह की मस्ती में कर्मी रहे मशगूल

उल्लेखनीय है कि, घने जंगल और शांत वातावरण के मध्य प्रकृति की गोद में अनूठे रूप से विकसित आउटबाउंड प्रशिक्षण सुविधा, कुछ सबसे दिलचस्प साहसिक बुनियादी ढांचे और सुविधाओं से लैश, यह जगह आउटबाउंड प्रशिक्षण गतिविधियों के लिए सबसे उपयुक्त है।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL BSP हिर्री माइंस में लोक कला महोत्सव: स्थानीय कलाकारों को मिला मंच, जीता पुरस्कार

40 फीट ऊंचा रैपलिंग टॉवर, ऑस्ट्रेलियाई सैर के लिए लकड़ी के तख्ते, रेंगने के लिए सुरंग, समानांतर रस्सी, बंदर कूद के लिए रस्सी और टीम बिल्डिंग के विभिन्न खेलों के संचालन के लिए कई अन्य सुविधाएँ नव विकसित केंद्र की कुछ दिलचस्प विशेषताएं हैं।

इस सुविधा को असंख्य सजावटी पौधों और फूलों वाले पेड़ों से खूबसूरती से सजाया गया है। चार इन-हाउस विकसित आकर्षक गुम्मट (गज़ेबो) बनाए गए हैं जिससे इस स्था की शोभा और भी बढ़ गई है।

ये खबर भी पढ़ें : Bokaro Steel Plant: बिजली चोरी पर लगाम लगाओ भाई, घाटे की करो भरपाई