Suchnaji

SAIL Bonus: 28611, 33710 रुपए या 1 लाख 56 हजार, पढ़िए खबर

SAIL Bonus: 28611, 33710 रुपए या 1 लाख 56 हजार, पढ़िए खबर
  • बोनस फॉर्मूला (Bonus Formula) सेल के कर्मचारियों को झटका दे सकता है।

अज़मत अली भिलाई। सेल (SAIL) कर्मचारियों के खाते में बोनस की राशि कितनी डाली जाएगी? यही सवाल हर तरफ उठ रहा। कर्मचारी सेल के प्रोडक्शन, प्रॉफिट के आंकड़े को आधार बनाकर अपना-अपना हिसाब लगा रहे हैं।

AD DESCRIPTION R.O. No. 12697/ 111

ये खबर भी पढ़ें :  Bokaro Steel Plant: 50 साल पुरानी हॉट स्ट्रिप मिल की वाटर पाइपलाइन, ईडी संग लगी अफसरों की लाइन

AD DESCRIPTION R.O. No.12697/ 111

राउरकेला इस्पात कारखाना कर्मचारी संघ के पदाधिकारी त्रिलोचन नायक का कहना है कि 23 मार्च 2023 को NJCS सदस्य के द्वारा फाइनल ASPLIS के अनुसार 2023-24 के लिए बोनस राशि 33710 रुपये होता है।

ये खबर भी पढ़ें :  RINL के 3 में से 2 ब्लास्ट फर्नेस का प्रोडक्शन ठप, SAIL चेयरमैन से मांग, बंदरगाह के स्टॉक से आयरन ओर करें डायवर्ट

वहीं, पिछले दिनों सीटू की तरफ से जो गणना की गई थी, उसमें कर्मचारियों को इस बार करीब 28611 रुपए ही बोनस मिलने की आशंका जताई गई। इसका विरोध भी किया गया। जबकि पिछली बार 40 हजार 500 रुपए बोनस दो किस्त में दिया गया था।

ये खबर भी पढ़ें :  SAIL RSP के सीनियर मैनेजर को संचार में उत्कृष्टता के लिए मिला चाणक्य पुरस्कार 2023

बोनस फॉर्मूला (Bonus Formula) सेल के कर्मचारियों को झटका दे सकता है। सीटू से जुड़े कर्मचारियों (Employees) ने बोनस फॉर्मूले (Bonus Formula) को आधार बनाकर गणना की है। इसके मुताबिक 28 हजार 611 रुपए बोनस बन रहा है। सेलेबल स्टील (Salable Steel) और क्रूड स्टील प्रोडक्शन (crude steel production) के आंकड़ों के आधार पर कुल 26 हजार 421 रुपए बन रहा है।

 ये खबर भी पढ़ें :  SAIL बोनस पर NJCS कोर कमेटी की मीटिंग इसी हफ्ते, आज रात तक कम्युनिकेशन

दूसरी ओर बीएसपी वर्कर्स यूनियन (BSP Workers Union) ने सेल कर्मचारियों (SAIL Employees) के एक्सग्रेसिया (बोनस) के लिए पिछले वर्ष हुए कच्चे इस्पात के प्रति टन उत्पादन पर 300 रुपये बोनस दिए जाने की मांग की है। बीएसपी वर्कर्स यूनियन अध्यक्ष उज्जवल दत्ता ने कहा कि बीएसपी सहित सेल के लगभग 48,000 कर्मचारी बोनस की राह देख रहे हैं।

ये खबर भी पढ़ें :  SAIL Production-Productivity Meeting के बाद पहला आधिकारिक बयान, SAIL का Danger Game

बीएसपी वर्कर्स यूनियन (BSP Workers Union) अध्यक्ष ने कहा कि सेल ने वित्तीय वर्ष 2021-22 और वित्तीय वर्ष 2022-23 में क्रमशः 1,04,515 करोड़ रुपये और 1,05,802 करोड़ रुपयों का कारोबार किया था, परन्तु सेल ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में जहां 16039 करोड़ रुपये का कर पूर्व लाभ दिखाया।

ये खबर भी पढ़ें :  Boakro Stee Plant के कर्मचारियों ने SAIL मैनेजमेंट और NJCS का फूंका पुतला

इधर-बीएसपी अनाधिशासी कर्मचारी संघ ने वर्तमान बोनस फॉर्मूला को रद्द करके नए फॉर्मूले पर बोनस की मांग की है। बोनस देने के लिए जो फॉर्मूले का सुझाव दिया गया है, उसके हिसाब से 70 हजार से लेकर 1 लाख 56 हजार तक की राशि बन रही।

ये खबर भी पढ़ें :  Bhilai के 1 लाख मकानों पर लगेगा डिजिटल डोर नंबर, QR कोड में मकान मालिक की होगी कुंडली, एमओयू साइन

यूनियन ने 3 बोनस फॉर्मूला सेल प्रबंधन को भेजा था, उस पर अमल किया गया तो लाखों में बोनस मिलना तय है। वहीं, 50 ग्राम सोने का सिक्का दिलाने का दावा चुनाव में किया गया था, लेकिन इस पर भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। कर्मचारियों में खासा नाराजगी है।

ये खबर भी पढ़ें :  Wow: भिलाई सेक्टर 10 का क्रिकेट बॉक्स दिल कर देगा खुश

पहला फॉर्मूला डीए-बेसिक और प्रोडक्शन पर है। एक वर्ष के बेसिक तथा डीए का 8.33% SPIS+प्रोडक्शन/टर्नओवर/मुनाफा में रिकॉर्ड बनने पर स्पेशल इंसेंटिव की मांग की गई है।

ये खबर भी पढ़ें :  EPS 95: Bhilai Steel Plant के 18 हजार उच्च पेंशन के आवेदन EPFO से पास, अब नोट गिनने की बारी

सभी कर्मचारियों का अलग-अलग डीए-बेसिक होता है। इसलिए इस फॉर्मूले से गणना की जाए तो यह राशि करीब 70 हजार से एक लाख तक जाएगी। इसी तरह अन्य दो फॉर्मूले पर राशि की गणना की गई है, जो डेढ़ लाख तक पहुंच रहा है।

ये खबर भी पढ़ें :  SAIL Meeting 2023 Update: चेयरमैन अमरेंदु प्रकाश ने NJCS नेताओं को दिया बड़ा झटका, कहा-इस मीटिंग में कोई बात नहीं होगी बोनस-एरियर पर…