Suchnaji

SAIL BSP कर्मचारियों-अधिकारियों के बच्चों पर धनवर्षा, 25 हजार तक आ रहा खाते में, मम्मी-पापा भी पहुंचे

SAIL BSP कर्मचारियों-अधिकारियों के बच्चों पर धनवर्षा, 25 हजार तक आ रहा खाते में, मम्मी-पापा भी पहुंचे
  • भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा सेल एवं प्रधानमंत्री ट्राफी छात्रवृत्ति वितरण एवं प्रतिभा सम्मान समारोह सम्पन्न।
  • इस वर्ष उपरोक्त सभी श्रेणियों में कुल 382 आवेदन प्राप्त हुए।
  • इस योजना में इस वर्ष, कुल 40 लाख रुपये की राशि छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान की गई।
  • इस बार चयनित 279 विद्यार्थियों में से 131 छात्र एवं 148 छात्राएं
  • 58 छात्र-छात्राएं आरक्षित वर्ग के हैं।
  • 134 इंजीनियरिंग के, 48 मेडिकल के, 9 स्नाकोत्तर के तथा 88 अन्य पाठ्यक्रम के विद्यार्थी सम्मिलित।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई इस्पात संयंत्र (Bhilai Steel Plant) के शिक्षा विभाग (Education Department) द्वारा नेहरू सांस्कृतिक सदन सेक्टर-1 (Nehru Cultural House Sector-1) भिलाई में सेल एवं प्रधानमंत्री ट्राफी छात्रवृत्ति वितरण एवं प्रतिभा सम्मान समारोह 2022-2023 का आयोजन किया गया। यह समारोह संयंत्र के कार्यपालक निदेशकों की उपस्थिति में संपन्न हुआ।

AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें : दुनिया की सबसे लंबी रेल पटरी प्रोडक्शन का Bhilai Steel Plant ने लगातार दूसरे महीने बनाया रिकॉर्ड

इस समारोह में भिलाई इस्पात संयंत्र के कार्यपालक निदेशक (वर्क्स) अंजनी कुमार, कार्यपालक निदेशक (सामग्री प्रबंधन) अजय कुमार चक्रवर्ती, कार्यपालक निदेशक (वित्त एवं लेखा) डॉ अशोक कुमार पंडा, कार्यपालक निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) पवन कुमार, कार्यपालक निदेशक (माइंस) बी के गिरी सहित मुख्य महाप्रबंधकगण, महाप्रबंधकगण और इस्पात बिरादरी के अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे। साथ ही ऑफिसर्स एसोसिएशन के अधिकारीगण, पुरस्कृत विद्यार्थियों के अभिभावकगण व विभिन्न यूनियन के प्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें : भिलाई स्टील प्लांट ने लगाई सुरक्षा प्रदर्शनी, आप भी आइए सिविक सेंटर में देखने

जानिए क्या बोले-ईडी वर्क्स अंजनी कुमार

अपने उद्बोधन में अंजनी कुमार ने छात्रवृत्ति हेतु चयनित विद्यार्थियों को उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएँ दी। उन्होंने छात्रों को जीवन में दृढ़ निश्चय के साथ आगे बढ़ने की सलाह दी। उन्होंनें बताया कि यह छात्रवृत्ति विद्यार्थियों को न केवल आर्थिक सहायता प्रदान करती हैं, बल्कि अपनी शिक्षा-दीक्षा के प्रति उन्हें सतत् प्रयासरत रहने के लिए उत्साह वर्धन भी करती हैं।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 पेंशन: बजट से मायूसी पर पेंशनर्स बोले-हमें दिल्ली नहीं, जाना चाहिए अयोध्या

उन्होंने कहा, इन विद्यार्थियों में मुझे मिनी इंडिया नजर आता है और संयंत्र द्वारा किया जा रहा ये प्रयास शिक्षा के साथ साथ सभी क्षेत्रों को अपने में सम्मिलित कर लेता है। क्योकि शिक्षा ही विकास का मूल आधार है, जिसके मध्यम से वे भिन्न क्षेत्रों में संस्था को गौरवान्वित कर सकते हैं।

ये खबर भी पढ़ें : Breaking News: भिलाई स्टील प्लांट में हादसा, दहकती रेल पटरी की दिशा भटकी, स्टैंड पर अटकी

कार्यक्रम का शुभारंभ, दीप प्रज्वलन एवं स्वागत गीत के साथ हुआ। स्वागत गीत सीनियर सेकेन्डरी स्कूल सेक्टर-10 के छात्रों द्वारा प्रस्तुत किया गया। इसके उपरांत, महाप्रबंधक (शिक्षा) शिखा दुबे ने अतिथियों का स्वागत करते हुए प्रधानमंत्री ट्रॉफी छात्रवृत्ति, सेल छात्रवृत्ति एवं मेरिट अवार्ड के बारे में अवगत कराया।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL RSP ने क्रूड स्टील प्रोडक्शन और ब्लास्ट फर्नेस-5 ने तोड़े रिकॉर्ड, DIC-ED पहुंचे मिठाई लेकर

विदित हो कि यह छात्रवृत्ति भिलाई इस्पात संयंत्र की एक अनूठी पहल का परिणाम है। यह छात्रवृत्ति, भारत के इस्पात संयंत्रों को सर्वोत्कृष्ट निष्पादन हेतु प्रदान की जाने वाली प्रधानमंत्री ट्रॉफी के साथ मिलने वाली राशि से अर्जित ब्याज से दी जाती है।

ये खबर भी पढ़ें : BSP कर्मियों के घरों में आएगा नॉन फाइनेंशियल अवॉर्ड स्कीम का गिफ्ट, इंटक ने ये कहा…

यह कार्यक्रम बड़े ही आनंद के वातावरण में संपन्न हुआ। कार्यक्रम के अंत में प्राचार्या (सीनियर सेकेन्डरी स्कूल सेक्टर-10) सुमिता सरकार ने धन्यवाद ज्ञापन दिया। कार्यक्रम का संचालन, (व्याख्याता) उमा पाण्डेय व (शिक्षिका) कुमारी महुवा चटर्जी ने किया।

ये खबर भी पढ़ें : Boakro Steel Plant के नए DIC अब बीके तिवारी, इंटरव्यू में 8 ED को पछाड़ा

जानिए कितनी मिली स्कॉलरशिप

पहली श्रेणी प्रधानमंत्री ट्रॉफी सर्वोत्तम छात्रवृत्ति की है। जिसके अंतर्गत छात्रवृत्ति के रूप में 75 छात्र-छात्राओं को रुपये 25000 वार्षिक छात्रवृति प्रदान की जा रही है। इस छात्रवृत्ति के लिए वे छात्र-छात्राएँ पात्र हैं, जिन्होंने गत वर्ष, राष्ट्रीय स्तर की प्रतिष्ठित संस्थाओं जैसे IISER, IIMs, AIMS, IITs, NITs, National Law Collages, CA, CMA, NIFT, NDA आदि में प्रवेश लिया है। दूसरी श्रेणी के अन्तर्गत प्रधानमंत्री ट्रॉफी की योजना के तहत, 180 छात्र-छात्राओं को तकनीकी या ग़ैर तकनीकी पाठ्यक्रम के लिए वार्षिक छात्रवृत्ति के रूप में 11000 रुपये प्रदान किये जाते हैं। इन छात्रवृत्तियों का चयन 12 वीं कक्षा के प्राप्तांक के आधार पर किया जाता है।

ये खबर भी पढ़ें : CIL NEWS: वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड की बागडोर अब जय प्रकाश द्विवेदी के हाथ, BHU से की है पढ़ाई

तृतीय श्रेणी सेल छात्रवृत्ति, भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मचारियों की संख्या के आधार पर दी जाती है। इस वर्ष यह छात्रवृत्ति, 25 छात्रों को दी जा रही है। वहीँ तकनीकी क्षेत्र के लिए 3000 रुपये व ग़ैर तकनीकी पाठ्यक्रम के लिए 1800 रुपये की छात्रवृत्ति प्रदान की जा रही है।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 Pension News: पेंशनर्स की ये बातें रुला देगी आपको, लेकिन सरकार…

382 आवेदन प्राप्त

इस वर्ष उपरोक्त सभी श्रेणियों में कुल 382 आवेदन प्राप्त हुए। इस योजना में इस वर्ष, कुल 40 लाख रुपये की राशि छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान की गई। इस बार चयनित 279 विद्यार्थियों में से 131 छात्र एवं 148 छात्राएँ हैं। जिसमें से 58 छात्र-छात्राएँ आरक्षित वर्ग के हैं। इनमें 134 इंजीनियरिंग के, 48 मेडिकल के, 9 स्नाकोत्तर के तथा 88 अन्य पाठ्यक्रम के विद्यार्थी सम्मिलित हैं।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL NEWS: कंपनी एक, लेकिन BSP और Bokaro Steel Plant की छुट्‌टी में अंतर, उठा सवाल

इस आधार पर किया गया चयन

इस वर्ष प्रधानमंत्री ट्रॉफी छात्रवृत्ति, सेल छात्रवृत्ति एवं मेरिट रिवार्ड का वितरण एक ही मंच से किया गया। मेरिट रिवार्ड के लिये छात्रों का चयन सीबीएसई, छत्तीसगढ़ बोर्ड व अन्य किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड के 10 वीं एवं 12 वीं कक्षा के प्राप्तांकों के आधार पर तथा 8 वीं के लिए टीक्यूटी के प्राप्तांकों के आधार पर किया जाता है। इस श्रेणी में 29 छात्रों को पुरस्कृत किया गया, जिनमें से 3 छात्र खदान समूह से हैं।

ये खबर भी पढ़ें : BSL News: बीके तिवारी से मिले भारतीय इस्पात कर्मचारी संघ ने पदाधिकारी, चोरी का उठाया मुद्दा