Suchnaji

SAIL NJCS सब कमेटी बैठक: 8 हजार पर उलझ रहा मामला

SAIL NJCS सब कमेटी बैठक: 8 हजार पर उलझ रहा मामला
  • वर्तमान में करीब 2500 रुपए एडब्ल्यूए की राशि मजदूरों को मिलती है। इसी राशि को 8 हजार रुपए करने की मांग की जा रही है।

अज़मत अली, भिलाई। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड-सेल (Steel Authority of India Limited – SAIL) के मजदूरों की आय बढ़ाने पर आज बड़ा फैसला हो सकता है। नेशनल ज्वाइंट कमेटी फॉर स्टील इंडस्ट्री-एनजेसीएस की बैठक दिल्ली में है। श्रमिक नेता दिल्ली स्थित एक होटल में पहुंचना शुरू हो गए हैं। 11 बजे से बैठक का समय निर्धारित है। प्रबंधन की तरफ से ईडी, सीजीएम स्तर के अधिकारी मौजूद रहेंगे।

AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें : अयोध्या के लिए भक्तों का जत्था रवाना, मनीष पांडेय ने दुर्ग स्टेशन पर की मुलाकात

एनजेसीएस सब-कमेटी की बैठक में ठेका मजदूरों के एडब्ल्यूए राशि पर फैसला होना है। सीटू से ललित मोहन मिश्र, इंटक से बीएन चौबे, एचएमएस से संजय वढावकर और एटक से रामाश्रय प्रसाद मजदूरों का पक्ष रखेंगे।

ये खबर भी पढ़ें : ED से सामना कर रहे विधायक देवेंद्र यादव को अब हाईकोर्ट से नोटिस, प्रेम प्रकाश पांडेय ने खेला दांव

बैठक में पहुंचे श्रमिक नेताओं ने सूचनाजी.कॉम को बताया कि मजदूरों की आय बढ़ाना बहुत जरूरी है। इस वक्त इस्पात उत्पादन में ठेका मजदूरों की भागीदारी नियमित कर्मचारियों के साथ है। इसलिए मजदूरों को भी हक मिलना चाहिए। पिछली बैठक में एडब्ल्यूए की राशि 8 हजार तक करने की मांग की गई थी।

ये खबर भी पढ़ें : भिलाई स्टील प्लांट की ढाई एकड़ जमीन पर कब्जेदारों का धंधा, सब ध्वस्त, देखिए फोटो

सेल प्रबंधन ने इस मांग को खारिज कर दिया था। बैठक को बीच में बेनतीजा समाप्त कर दिया था। 2014 में एडब्ल्यूए की राशि में इजाफा हुआ था। 10 साल से कोई बदलाव नहीं हुआ है। इसलिए 8 हजार रुपए की मांग की जा रही है।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL SC-ST Employees Federation का कारपोरेट आफिस में डेरा, प्रबंधन ने कहा-आप लोग पहले एक हो जाइए

वर्तमान में करीब 2500 रुपए एडब्ल्यूए की राशि मजदूरों को मिलती है। इसी राशि को 8 हजार रुपए करने की मांग की जा रही है। 2500 रुपए वर्तमान में किया जा रहा है। इस पर 300 प्रतिशत बढ़ाने की मांग की गई है। अब देखना यह है कि प्रबंधन इस राशि को कितने प्रतिशत बढ़ाती है।
यूनियन नेताओं का कहना है कि नाइट शिफ्ट एलाउंस, ग्रेच्युटी, पीएफ का मुद्दा भी उठाया जाएगा। मजदूरों को ये सारी सुविधा मिलने से ही वह वेज का पार्ट हो जाएगा। फिर समय-समय पर यह बढ़ता जाएगा। ग्रुप इंश्योरेंस पर भी बात होगी।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 हायर पेंशन की न्यूज: जमा होने वाली रकम, एरियर और अंतर राशि का लेटर वायरल, EPFO बोला-कोई गाइडलाइन नहीं