Suchnaji

SAIL RSP ने क्रूड स्टील प्रोडक्शन और ब्लास्ट फर्नेस-5 ने तोड़े रिकॉर्ड, DIC-ED पहुंचे मिठाई लेकर

SAIL RSP ने क्रूड स्टील प्रोडक्शन और ब्लास्ट फर्नेस-5 ने तोड़े रिकॉर्ड, DIC-ED पहुंचे मिठाई लेकर
  • स्टील मेल्टिंग शॉप्स-2 ने 337009 टन क्रूड स्टील का उत्पादन करके इस रिकॉर्ड में सराहनीय योगदान दिया।

सूचनाजी न्यूज, राउरकेला। सेल, राउरकेला इस्पात संयंत्र (आर.एस.पी.) ने जनवरी में मासिक रिकॉर्ड प्रदर्शन के साथ कैलेंडर वर्ष 2024 की शुरुआत की। वर्ष 2023 को जिस सफलता के साथ समाप्त किया गया था, उसे जारी रखते हुए, इस्पात संयंत्र ने आगे बढ़कर वर्ष के पहले महीने में अब तक का सबसे अच्छा मासिक क्रूड स्टील उत्पादन दर्ज किया है।

AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें : SAIL NEWS: Bhilai Steel Plant में डेली रिवॉर्ड स्कीम पर होने वाला है कुछ बड़ा फैसला

दोनों स्टील मेल्टिंग शॉप्स ने 378227 टन क्रूड स्टील का उत्पादन किया है, जो शुरुआत से ही सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। स्टील मेल्टिंग शॉप्स-2 ने 337009 टन क्रूड स्टील का उत्पादन करके इस रिकॉर्ड में सराहनीय योगदान दिया, जिससे मार्च 2023 में हासिल किए गए 328663 टन के अपने पहले के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में सुधार हुआ है।

ये खबर भी पढ़ें : ईपीएस 95 पेंशनर्स ने कड़ाके की ठंड को दी मात, भूख हड़ताल पर की 7500 रुपए पेंशन की बात

258493 टन का हॉट मेटल उत्पादन दर्ज कर ब्लास्ट फर्नेस-5 ने अपना सर्वश्रेष्ठ माह प्रदर्शन दर्ज किया और मार्च 2023 में बनाए गए 257765 टन के पिछले रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया।

ये खबर भी पढ़ें : CG News: 4 फरवरी तक होगी समर्थन मूल्य और लिंकिंग पर धान खरीदी, शनिवार, रविवार को भी धान खरीदी

यह उपलब्धि सिंटर प्लांट, रॉ मटेरियल हैंडलिंग प्लांट, कोक ओवन, यातायात और कच्चा माल, कैप्टिव पावर प्लांट, ऑक्सीजन प्लांट, उत्पादन, योजना और नियंत्रण विभाग और अनुसंधान और नियंत्रण प्रयोगशाला, ऊर्जा प्रबंधन विभाग, एफ.एंड एम. जैसे सभी संबंधित विभागों के एकीकृत टीम प्रयास तथा  कच्चे माल की गुणवत्ता युक्‍त आपूर्ति एवं  ब्लास्ट फर्नेस और एस.एम.एस.-2  कर्मीसमूह के दृढ़ प्रयास के कारण हासिल की गई।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL Rourkela Steel Plant को मिला एक और सर्टिफिकेट, जश्न का माहौल

आरएसपी के निदेशक प्रभारी तथा बोकारो स्‍टील प्‍लांट के अतिरिक्‍त प्रभार अतनु भौमिक ने विभाग के कर्मीसमूह और उनसे जुड़ी इकाइयों को बधाई देने के लिए ब्लास्ट फर्नेस-5 और स्टील मेल्टिंग शॉप्स-2 का दौरा किया। उनके साथ कार्यपालक निदेशक (वर्क्‍स),  एस.आर.सूर्यवंशी, कार्यपालक निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन), के साथ कार्यपालक निदेशक (परियेाजना) का अतिरिक्त प्रभार तरूण मिश्र, कार्यपालक निदेशक (खान), आलोक वर्मा, कार्यपालक निदेशक (वित्‍त एवं लेखा), एके.बेहुरिया और आर.एस.पी. के कई अन्य मुख्‍य महा प्रबंधक और वरिष्ठ अधिकारी थे।

ये खबर भी पढ़ें : Bokaro Steel Plant: बीएसएल के 19 अफसर और 105 कर्मचारी एक साथ रिटायर, बढ़ा वर्क प्रेशर

डी.आई.सी. ने रिकॉर्ड उत्पादन हासिल करने के लिए सामूहिक प्रयासों की सराहना की और निरंतरता बनाए रखने पर जोर दिया। इकाइयों के लगातार शानदार प्रदर्शन पर अत्यधिक प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्होंने सामूहिक इकाइयों से इकाइयों की पूरी श्रृंखला में स्थिर उत्पादन सुनिश्चित करने का आग्रह किया।

ये खबर भी पढ़ें : मैत्रीबाग फ्लावर शो 2024: आप भी आइए 4 फरवरी को, फूल, फल और लगेगा रंगोली का तड़का, प्रतियोगिता बिल्कुल फ्री

उन्होंने सभी से उच्च सुरक्षा मानकों को प्राप्त करने के लिए हर संभव प्रयास करने का भी आग्रह किया। श्री भौमिक ने रिकॉर्ड हासिल करने के लिए ब्लास्ट फर्नेस और एस.एम.एस.-2 विभाग के कर्मी समूह को गुलदस्ते और मिठाइयां भेंट कीं।

ये खबर भी पढ़ें : भिलाई स्टील प्लांट: IR GUIDE BOOK रिलीज, अधिकारियों-कर्मचारियों को होगी सुविधा

अपने संबोधन में ईडी वर्क्स एसआर सूर्यवंशी ने महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल करने के लिए टीम ब्लास्ट फर्नेस और एस.एम.एस.-2 विभाग कर्मीसमूह और सभी संबंधित विभागों को बधाई दी। उन्होंने सभी से सुरक्षित और हरित इस्पात का उत्पादन करने के अपने संकल्प को दोहराने का भी आह्वान किया। अपने संबोधन में तरूण मिश्र ने रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन दर्ज करने और अच्छे कार्यों को जारी रखने के लिए कर्मचारियों की प्रशंसा की।

ये खबर भी पढ़ें : भिलाई स्टील प्लांट से बड़ी खबर, 6 अधिकारी और 68 कर्मचारियों की विदाई

श्री वर्मा ने भी कर्मीसमूह को बधाई दी और उनके संयुक्त प्रयास के लिए संबंधित विभागों की सराहना की जिससे इस उत्कृष्ट प्रदर्शन को हासिल करने में मदद मिली। एके.बेहुरिया ने टीम वर्क और संबंधित विभागों के सहयोग की सराहना की।

बदले में कर्मचारियों ने शीर्ष प्रबंधन को आश्वासन दिया कि वे आने वाले दिनों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करना जारी रखेंगे और आर.एस.पी. को सफलता की नई ऊंचाइयों को छूने में मदद करेंगे।

ये खबर भी पढ़ें : IAS प्रशिक्षणार्थियों का ग्रुप पहुंचा Bhilai Steel Plant, नजरों के सामने देखा सबकुछ