Suchnaji

भिलाई स्टील प्लांट के वायर रॉड मिल ने उत्पादन का बनाया नया रिकॉर्ड

भिलाई स्टील प्लांट के वायर रॉड मिल ने उत्पादन का बनाया नया रिकॉर्ड
  • वायर रॉड मिल ने 1,663 टन उत्पादन कर, 19 नवंबर 2023 को दर्ज पिछले सर्वश्रेष्ठ उत्पादन 1,654 टन को पार किया।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र (SAIL Bhilai Steel Plant) की वायर रॉड मिल (Wire Rod Mill) ने 15 फरवरी को टीएमटी 10 और 8 एमएम प्रोफाइल में दैनिक उत्पादन का नया रिकॉर्ड बनाने में कामयाबी हासिल की। मिल ने 1,663 टन उत्पादन कर, 19 नवंबर 2023 को दर्ज पिछले सर्वश्रेष्ठ उत्पादन 1,654 टन को पार किया।

AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Township में 12 से 17 फरवरी तक बिजली कटौती, पढ़िए शेड्यूल

इलेक्ट्रोड उद्योग के लिए इलेक्ट्रोड गुणवत्ता वाले वायर रॉड की रोलिंग के साथ ही भूकंपरोधी (ईक्यूआर) और जंगरोधी (एचसीआर) दोनों ग्रेड में टीएमटी वायर रॉड (TMT Wire Rod) बनाने वाली मिल ने अप्रैल 2023 से जनवरी 2024 की अवधि के दौरान उत्पादन में पिछले वर्ष की तुलना में 23.6 प्रतिशत की उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज की है।

ये खबर भी पढ़ें : बीएसपी ब्लास्ट फर्नेस के अधिकारी और कर्मचारियों को मिला शिरोमणि अवॉर्ड

मिल ने वित्त वर्ष 2022-23 की अप्रैल से जनवरी की अवधि में दर्ज 3,07,664 टन उत्पादन को पार करते हुए वर्तमान वित्त वर्ष की इसी अवधि में 3,80,268 टन वायर रॉड उत्पादन दर्ज किया।

गौरतलब है कि वर्तमान वित्तीय वर्ष में वायर रॉड मिल ने उत्पादन में वृद्धि आंतरिक संसाधनों द्वारा पिंच रोल यूनिट के प्रतिस्थापन के माध्यम से सुनिश्चित की है।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Steel Plant ने अब तक का सर्वाधिक हॉट मेटल प्रोडक्शन का बनाया रिकार्ड

एक अलग डिजाइन की ‘बी स्ट्रैंड’ की पिंच रोल यूनिट को, मिल के सी स्ट्रैंड में फिक्स किया गया है। इस कार्य को निष्पादित करने के लिए वायर रॉड मिल टीम ने दोनों स्ट्रैंड की नींव और आधार फ्रेम को मॉडिफाई किया।

यह कार्य संयंत्र के इंजीनियरिंग डिजाइन विभाग और मैकेनिकल संगठन के सहयोग से पूरा किया गया। ईडीडी ने बेस फ्रेम के लिए ड्राइंग तैयार किया और मैकेनिकल संगठन के मशीन शॉप ने बेस फ्रेम तैयार करने में सहायता प्रदान की।

ये खबर भी पढ़ें : EIL के प्रबंधन निदेश का अतिरिक्त चार्ज मिला Rashtriya Ispat Nigam के डायरेक्टर पर्सनल सुरेश पांडेय को

वैल्यू एडेड स्पेशल स्टील ग्रेड के उत्पादन के क्षेत्र में वायर रॉड मिल ने वर्तमान वित्त वर्ष में पहली बार टीएमटी एफई-550 ग्रेड की रोलिंग की है। वर्तमान वित्त वर्ष की अप्रैल से जनवरी अवधि के दौरान वायर रॉड मिल ने 23,825 टन इलेक्ट्रोड क्वालिटी ग्रेड (ईडब्ल्यूएनआर) आईएस-2879 का उत्पादन किया।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL में AWA का पैसा बढ़ने पर मजदूरों ने खिलाई एक-दूसरे को मिठाई, BSL में NJCS नेता दहाड़े

मिल ने वर्तमान वित्त वर्ष की अप्रैल से जनवरी अवधि के दौरान 1,41,969 टन टीएमटी वायर रॉड्स का उत्पादन किया, जिसमें टीएमटी (ईक्यूआर) ग्रेड में 1,35,745 टन और टीएमटी (एचसीआर) ग्रेड में 6,223 टन उत्पादन शामिल है। मिल ने वर्तमान वित्त वर्ष की अप्रैल से जनवरी अवधि के दौरान 2,07,467 टन स्पेशल ग्रेड प्लेन वायर रॉड्स का उत्पादन दर्ज किया, जो कि पिछले वर्ष की इसी अवधि में दर्ज 1,75,132 टन उत्पादन से कहीं अधिक है।

ये खबर भी पढ़ें : Durg पहुंचे CM विष्णु देव साय, 25-50 लाख का तोहफा

मुख्य महाप्रबंधक (मर्चेंट मिल एंड वायर रॉड मिल) एमके गोयल ने वायर रॉड मिल बिरादरी के सदस्यों को उत्पादन बढ़ाने के उनके समग्र प्रयासों के लिए बधाई दी है और सभी संबंधित विभागों को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।

ये खबर भी पढ़ें : Durg पहुंचे CM विष्णु देव साय, 25-50 लाख का तोहफा

संयंत्र के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी डब्ल्यूआरएम टीम और उनके नेतृत्व तथा उत्पादन में बढ़ोत्तरी के लिए संबंधित विभागों के प्रयासों तथा उनके सहयोग के लिए बधाई दी।