Suchnaji

INTUC 76th Foundation Day: भिलाई और दुर्गापुर स्टील प्लांट इंटक यूनियन ने काटा केक, मनाया जश्न

INTUC 76th Foundation Day: भिलाई और दुर्गापुर स्टील प्लांट इंटक यूनियन ने काटा केक, मनाया जश्न
  • आजादी से पहले ही इंटक की स्थापना इस मूल भावना से हुई थी कि आजाद होने के बाद देश में श्रमिक वर्ग के अधिकारों के लिए एक स्वतंत्र यूनियन का होना जरूरी है।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस इंटक का 76वां स्थापना दिवस स्टील एम्पलाइज यूनियन के कार्यालय में केक काटकर मनाया गया। वहीं, दुर्गापुर स्टील प्लांट के कर्मचारियों ने रजत रक्षित के नेतृत्व में केक काटकर स्थापना दिवस मनाया है।

AD DESCRIPTION RO No.:12652/205

भिलाई यूनियन के महासचिव वंश बहादुर सिंह ने कहा कि 3 मई 1947 को इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस इंटक की स्थापना हुई। आजादी के बाद इंटक नेताओं के सुझाव को मानते हुए कांग्रेस सरकार द्वारा देश के श्रमिक वर्ग के अधिकारों एवं सुविधाओं को दिलाने के लिए कानून बनाए गए। लेकिन वर्तमान दौर में केंद्रीय सरकार उन सभी कानूनों को खत्म कर पूंजीपतियों के लिए मजदूरों का शोषण करने का रास्ता बना रही है। हम सभी को मिलकर इसका विरोध करना है।

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें:     INTUC Foundation Day: आज़ादी से पहले पड़ी नींव, 77वें साल में इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस ने रखा कदम, 29 साल से संजीवा रेड्‌डी अध्यक्ष

कार्यकारी अध्यक्ष पूरण वर्मा ने कहा कि आजादी से पहले ही इंटक की स्थापना इस मूल भावना से हुई थी कि आजाद होने के बाद देश में श्रमिक वर्ग के अधिकारों के लिए एक स्वतंत्र यूनियन का होना जरूरी है। इसी मूल भावना के साथ इंटक की स्थापना की गई और हमें खुशी है कि इंटक देश के श्रमिक वर्ग को अधिकार दिलाने एवं सामाजिक सुरक्षा की दिशा में बहुत महत्वपूर्ण कार्य किया।

स्टील ठेका यूनियन के अध्यक्ष संजय साहू ने कहा कि इंटक ने देश के संगठित एवं असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को बहुत से अधिकारियों एवं सुविधाएं दिलाई लेकिन अभी भी नियमित एवं ठेका श्रमिक के बीच में एक बड़ी खाई है जिसे हमें दूर करना है।

ये खबर भी पढ़ें:    यात्रीगण कृपा ध्यान दें: 4 से 10 मई तक ट्रेन सफर देगा कष्ट, 100 से ज्यादा ट्रेनें प्रभावित, 20 ट्रेनें कैंसिल और 50 से ज्यादा का बदला रूट, रेलवे चलाएगा बस

स्टील इम्प्लाइज यूनियन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि हमें गर्व है कि हम स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों द्वारा स्थापित देश के सबसे बड़ी ट्रेड यूनियन के सदस्य है हम श्रमिक वर्ग की लड़ाई लगातार जारी रखेंगे। यूनियन कार्यालय में बड़ी संख्या में उपस्थित इंटक पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने केक काटकर इंटक का स्थापना दिवस मनाया। कार्यक्रम का संचालन राजकुमार ने किया।

इस दौरान वरिष्ठ उपाध्यक्ष संतोष किचलू, एस रवि, गिरिराज देशमुख, राजाराम पांडे, अतिरिक्त महासचिव शेखर शर्मा, उप महासचिव धनेश प्रसाद, जयंत बराठे, शिव शंकर सिंह, अनिमेष पसीने, विपिन बिहारी मिश्रा, रेशम राठौर, रमन मूर्ति, गुरुदेव साहू, ज्ञानेंद्र पांडे, गोविंद राठौर, जय किशोर, ब्रह्मा, राजकुमार, आरिफ मंजर, राकेश तिवारी, विंसेंट परेरा, विजय विश्वकर्मा, मदन मोहन, सोनी प्रकाश माहले, एजे संतोष, राममूर्ति, बाल सिंह, कौशलेंद्र सिंह, जितेंद्र अग्रवाल, वेंकटेश्वरा राव, बेंजामिन बिन्नी पाल, डीपी साहू, वेणुगोपाल, अर्जुन कुमार, सुरेंद्र प्रसाद, जितेंद्र सिंह आदि उपस्थित थे।

दुर्गापुर इंटक में जश्न


INTUC का 76वां स्थापना दिवस दुर्गापुर स्थित हिंदुस्तान स्टील वर्कर्स यूनियन कार्यालय में मनाया गया। इंटक का ध्वज कार्यकारी अध्यक्ष परेश कर्मकार द्वारा फहराया गया। बाद में नेताओं ने इंटक के इतिहास और गौरव पर अपने भाषण दिए। उन्होंने संगठित और असंगठित क्षेत्रों के श्रमिकों को संगठित करने में इंटक की भूमिका पर भी जोर दिया। प्रतिभागियों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ जी संजीव रेड्डी के नेतृत्व में प्रस्तावित चार श्रम संहिताओं सहित सरकार के मजदूर विरोधी कदमों के खिलाफ लड़ने की शपथ ली। अंत में सेलिब्रेट करने के लिए केक काटा गया।

एचएसडब्ल्यूयू इंटक दुर्गापुर यूनिट के महासचिव रजत दीक्षित, परेश करमाकर, कोषाध्यक्ष वरुण चटर्जी, उत्पल डे, कौशिक बनर्जी, अविजीत सिन्हा, बिजॉय साहा, सौविक चटर्जी, संजीब घोष, सुप्रकाश आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AD DESCRIPTION