Suchnaji

Rourkela Steel Plant ने आदिवासी मंच सजाया, कलाकारों ने इसे खूब जमाया

Rourkela Steel Plant ने आदिवासी मंच सजाया, कलाकारों ने इसे खूब जमाया
  • संथाल, धरुआ, परोजा, ओरम, किसान, पौड़ी भुइयां, डोंगरिया कंध और कुटिया कंध जैसे विभिन्न जनजातियों से संबंधित लगभग 140 आदिवासी कलाकारों द्वारा दैनिक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रदर्शि‍त किया गया।

सूचनाजी न्यूज, राउरकेला। सेल राउरकेला स्टील प्लांट (आरएसपी) और ट्राइबल को-ऑपरेटिव मार्केटिंग डेवलपमेंट फाउंडेशन (ट्राइफेड) द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित आदिवासी मेला आदि महोत्सव का समापन समारोह हो गया है। सुंदरगढ़ विधायक कुसुम टेटे समापन संध्या की मुख्य अतिथि थीं। आरएसपी के कार्यपालक निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) पीके. शतपथी और ट्राइफेड के उपाध्यक्ष पीके कनहर सम्मानित अतिथि थे।

AD DESCRIPTION R.O. No. 12697/ 111

विधायक ने आदिवासी लोगों की कला और शिल्प को बढ़ावा देने के उद्देश्य से आर.एस.पी. और ट्राइफेड की पहल की सराहना की और कहा, “आदि महोत्सव जैसे कार्यक्रम कला, संस्कृति और हस्तशिल्प में जनजातीय लोगों की अपार प्रतिभा को उजागर करता है।” पीके. कनहर ने पहल की प्रशंसा करते हुए जनजातीय लोगों द्वारा उद्यमशीलता को आगे बढ़ाने पर जोर दिया, ताकि उनके आर्थिक मानकों को बढ़ाया जा सके।

AD DESCRIPTION R.O. No.12697/ 111

श्री शतपथी ने अपने स्वागत भाषण में विभिन्न सीएसआर पहलों के माध्यम से आसपास के गांवों में रहने वाले जनजातीय लोगों के जीवन की गुणवत्ता को और बढ़ाने के लिए आर.एस.पी. की प्रतिबद्धता को दोहराया।

समापन समारोह में वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट (ओ.डी.ओ.पी.) के लॉन्च को भी चिह्नित किया गया, जिसमें चुने गए ओ.डी.ओ.पी. उत्पादों यानी पुरी जिले से पट्टचित्र पेंटिंग (जी.आई.) और सोनपुर जिले से बोमकाई साड़ी को उनके कारीगरों द्वारा प्रदर्शित किया गया। इसका शुभारंभ गण्यमान्यों की उपस्थिति में हुआ।

शिल्प स्टालों और कारीगरों के अलावा, 9 दिवसीय इस कार्यक्रम में संथाल, धरुआ, परोजा, ओरम, किसान, पौड़ी भुइयां, डोंगरिया कंध और कुटिया कंध जैसे विभिन्न जनजातियों से संबंधित लगभग 140 आदिवासी कलाकारों द्वारा दैनिक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रदर्शि‍त किया गया। प्रदर्शन आदिवासी जीवन शैली और प्रकृति के साथ उनके घनिष्ठ संबंध का उत्सव था। अंत में ट्राइफेड के क्षेत्रीय अधिकारी राहुल कुमार ने धन्यवाद ज्ञापित किया।