Suchnaji

राउरकेला स्टील प्लांट के हॉट स्ट्रिप मिल-2 को अंतरराष्ट्रीय मान्यता संग मिला प्रमाण पत्र

राउरकेला स्टील प्लांट के हॉट स्ट्रिप मिल-2 को अंतरराष्ट्रीय मान्यता संग मिला प्रमाण पत्र
  • प्रमाणपत्र 10 फरवरी, 2023 से 31 जनवरी, 2026 तक वैध है।


सूचनाजी न्यूज, राउरकेला। सेल राउरकेला इस्पात संयंत्र की हॉट स्ट्रिप मिल-2 को आईएसओ 9001:2015 क्यूएमएस प्रमाणपत्र से प्रमाणित किया गया है। कार्यपालक निदेशक (वर्क्स) के सम्‍मेलन कक्ष में आयोजित एक समारोह में कार्यपालक निदेशक (वर्क्स) एसआर सूर्यवंशी ने मुख्‍य महा प्रबंधक (सेवाएं) देवव्रत दत्त, मुख्य महाप्रबंधक (गुणवत्ता) अतिश चंद्र सरकार और महाप्रबंधक प्रभारी (बीई एवं आईईडी) चैताली दास की उपस्थिति में मुख्‍य महाप्रबंधक (एचएसएम-2) आरके. मुदुली को प्रमाण पत्र सौंपा।

AD DESCRIPTION R.O. No. 12697/ 111

ये खबर भी पढ़ें:  SAIL NEWS: हर कर्मचारी-अधिकारी को 1217 रुपए का झटका, SEWA ने दुर्घटना बीमा की प्रीमियम राशि में की 113% वृद्धि

AD DESCRIPTION R.O. No.12697/ 111

इस अवसर पर संयंत्र के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। प्रमाणपत्र 10 फरवरी, 2023 से 31 जनवरी, 2026 तक वैध है। उल्लेखनीय है कि, आई.एस.ओ. 9001 क्‍यू.एम.एस. मूल मानक है जो किसी भी उत्पादन इकाई को बेहतर दक्षता, अधिक कर्मचारी मनोबल, अंतर्राष्ट्रीय मान्यता, सेवा की बेहतर गुणवत्ता, बेहतर ग्राहक संतुष्टि और कई अन्य चीजों के लिए एक अनिवार्य आवश्यकता है।

प्रमाणन की प्रक्रिया अप्रैल, 2022 से शुरू हुई, क्‍यू.एम.एस. प्रलेखन जैसे प्रक्रिया, एस.ओ.पी., एस.एम.पी. को लगभग 6 महीने के रिकॉर्ड समय में तैयार किया गया, योग्यता मानचित्रण और जोखिम मूल्यांकन किया गया।

ये खबर भी पढ़ें:  SAIL कर्मचारी 10-15 हजार से ज्यादा गंवाकर कर रहे 9 हजार 500 का इंतजार

प्रमुख आपूर्तिकर्ताओं के साथ आई.सी.एस. समझौतों को अंतिम रूप दिया गया निवारक अनुरक्षण प्रणाली बनाई गई सैप् में, विभागाध्‍यक्ष समीक्षा, संचालन समिति समीक्षा और अन्य सिस्टम आवश्यकताओं को तत्कालीन मुख्‍य महा प्रबंधक प्रभारी (एच.एस.एम.) एवं वर्तमान के मुख्‍य महाप्रबंधक प्रभारी (सेवाएं) दत्ता के नेतृत्व में पूरा किया गया।

ये खबर भी पढ़ें:  SAIL Bonus: 10 मार्च को रेगुलर कर्मचारियों को 9500 और ट्रेनीज को मिलेगा 5250 रुपए

संपूर्ण एच.एस.एम.-2 कर्मीसमूह ने प्रोडक्शन प्लानिंग कंट्रोल (पी.पी.सी.), अनुसंधान एवं नियंत्रण प्रयोगशाला (आर.सी.एल.), इंस्ट्रूमेंटेशन, सामग्री प्रबंधन, मानव संसाधन विकास केन्‍द्र जैसी अन्य सभी संबद्ध इकाइयों के साथ मिलकर एक व्यवस्थित तरीके से काम किया। एच.एस.एम.-2 के क्‍यू.एम.एस. का आंतरिक ऑडिट 4 नवंबर, 2022 को किया गया था।

ये खबर भी पढ़ें:  Steel Authority Of India Limited 2-3 माह रहेगा बगैर नए चेयरमैन का, दावेदारों ने सजाई फिल्डिंग

सभी आंतरिक लेखा परीक्षण टिप्पणियों और गैर-अनुपालन (NCs) को पूरा करने के बाद, मेसर्स टी.यू.वी. द्वारा 21 जनवरी, 2023 को बाहरी लेखा परीक्षा किया गया था। ऑडिट के सफल समापन के बाद, 1 मार्च, 2023 को हमें प्रमाणपत्र प्रदान किया गया। संपूर्ण प्रमाणन प्रक्रिया का संचालन चैताली दास और आर.एस.पी. की बिजनेस एक्‍सलेंस टीम द्वारा किया गया था।