Suchnaji

SAIL BSP: दल्ली राजहरा खदान में हंगामा, बेरोजगारों का रेला, दुलकी-महामाया का प्रोडक्शन ठप करने की धमकी

SAIL BSP: दल्ली राजहरा खदान में हंगामा, बेरोजगारों का रेला, दुलकी-महामाया का प्रोडक्शन ठप करने की धमकी
  • 29 फरवरी से दल्ली राजहरा से महामाया माइंस जाने वाली रोड़ चोरहा पड़ाव के पास शांतिपूर्ण ढंग से हड़ताल पर बैठे बेरोजगार।

सूचनाजी न्यूज, राजहरा। भिलाई स्टील प्लांट (Bhilai Steel Plant) की आयरन ओर माइंस दल्ली राजहरा (Iron Ore Mines Dalli Rajhara) में बुधवार को जमकर हंगामा किया गया।  संयुक्त यूनियन के बैनर तले दल्ली राजहरा के बेरोजगारों ने माइंस ऑफिस के सामने की धरना प्रदर्शन हुआ।

AD DESCRIPTION

सुबह 11:00 बजे से संयुक्त यूनियन हिंदुस्तान स्टील इम्प्लाइज यूनियन (सीटू) छत्तीसगढ़ माइंस श्रमिक संघ और संयुक्त खदान मजदूर संघ के बैनर तले प्रदर्शन हुआ।

ये खबर भी पढ़ें : Big Breaking: दुनिया भर में डाउन हुआ इंस्टाग्राम और फेसबुक का सर्वर, भारत में भी बैठी साइट

दल्ली राजहरा माइंस के अंतर्गत आने वाले कलवर नागुर, दुलकी एवं  महामाया माइंस के ठेका कार्यों में काम देने के लिए दल्ली राजहरा के बेरोजगारों के द्वारा 29 फरवरी 2024 से दल्ली राजहरा से महामाया माइंस जाने वाली रोड़ चोरहा पड़ाव के पास शांतिपूर्ण ढंग से हड़ताल पर बैठे हैं। लेकिन, माइंस प्रबंधक और प्रशासन की ओर से कुछ भी सकारात्मक पहल नहीं किए जाने की विरोध में इन बेरोजगारों के द्वारा आज विशाल धरना प्रदर्शन किया गया।

ये खबर भी पढ़ें : Big Breaking: दुनिया भर में डाउन हुआ इंस्टाग्राम और फेसबुक का सर्वर, भारत में भी बैठी साइट

इसके समर्थन में तीनों यूनियन के कार्यकर्ता भी सामने आए। धरना-प्रदर्शन स्थल माइंस ऑफिस पहुंचकर समर्थन दिया। धरना प्रदर्शन के बाद संयुक्त यूनियन की ओर से मुख्य महाप्रबंधक राजहरा खदान समूह को पत्र दिया गया।

ये खबर भी पढ़ें : 53वां राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस: Bhilai Steel Plant ने दोहराया सुरक्षा का मंत्र, लगी गब्बर की पाठशाला, सबने खाई कसम

पत्र में कहा गया कि 01.01.2024 को कलवर नागुर, दुलकी माइंस एवं महामाया माइंस के कार्यों में दल्ली राजहरा के बेरोजगारों को समानुपातिक रूप से रोजगार दिए जाने की मांग को लेकर अधोहस्ताक्षरित संगठनों द्वारा ज्ञापन प्रेषित किया गया था।

ज्ञापन प्रेषित किए दो माह से अधिक समय हो चुका है। इस दौरान कई दौर की बैठक एवं चर्चा की गई, किन्तु मामले का सार्थक निराकरण नहीं हो पाया है।

ये खबर भी पढ़ें : BIG NEWS: भिलाई स्टील प्लांट को मिली 65वीं रिफ्रैक्टरी संचालन समिति बैठक की मेजबानी

प्रबंधन को चेतावनी, बढ़ेगा आंदोलन

29 फरवरी से चोरहा-पड़ाव चौक, महामाया माइंस रोड में बेरोजगारों द्वारा अनिश्चित कालीन धरना-प्रदर्शन प्रारंभ हो गया है। प्रशासन एवं प्रबंधन के साथ बैठक होने के बाद भी कोई सकारात्मक हल नहीं निकल पाया है।

ये खबर भी पढ़ें : BIG NEWS: भिलाई स्टील प्लांट को मिली 65वीं रिफ्रैक्टरी संचालन समिति बैठक की मेजबानी

इसके कारण आई.ओ.सी. राजहरा में कार्यरत ठेका मजदूरों में असंतोष व्याप्त है। बुधवार को धरना-प्रदर्शन के माध्यम से प्रबंधन को यह जानकारी दी गई कि उक्त मुद्दे का समाधान जल्द नहीं होने की स्थिति में सभी आई.ओ.सी. राजहरा के समस्त ठेका कर्मचारी इस आन्दोलन में सम्मिलित होने को बाध्य होंगे।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Township में हादसा, हाइड्रोलिक सिस्टम फेल, बिजली के पोल से टकराया हाइवा, सेक्टर 5 में अंधेरा

उत्पादन ठप करने की धमकी

प्रदर्शन के दान दौरान उपस्थित बेरोजगार एवं संगठन के कार्यकर्ताओं को संयुक्त यूनियन की ओर से पूर्व विधायक जनक लाल ठाकुर, विनोद मिश्रा, ज्ञानेंद्र सिंह, प्रकाश सिंह छत्री, सोमनाथ उइके, पुरुषोत्तम सिमैया ने संबोधन किया।

ये खबर भी पढ़ें : भिलाई स्टील प्लांट के पूर्व ईडी वर्क्स बीएमके बाजपेयी ने अब कही बड़ी बात, पढ़िए डिटेल

पूर्व विधायक जनक लाल ठाकुर ने कहा कि आज देश में कोई भी राजनीतिक पार्टी शासन किया हो, सभी की मंशा मजदूरों को दबाना और पूंजीपतियों से साठगांठ कर अपना फायदा कमाना रहा है। इसलिए हमेशा ये लोग मजदूर के खिलाफ खड़ा होकर प्रबंधक का साथ देते  रहते हैं।

ये खबर भी पढ़ें : बीएसपी का एक्शन: टाउनशिप की सड़कों पर जहां कब्जेदार लगाते हैं ठेला, वहीं, खुदाई शुरू

ज्ञानेंद्र सिंह ने कहा कि हक और अधिकार की लड़ाई में हम सदैव मजदूर वर्ग के साथ है। सोमनाथ उइके ने कहा कि यदि सकारात्मक पहल नहीं आता है तो बेरोजगार साथियों के समर्थन में संयुक्त यूनियन की ओर से उग्र कदम उठाते हुए महामाया माइंस और दुलकी माइंस को  पूरी तरह से बंद कर चक्का जाम किया जाएगा।

ये खबर भी पढ़ें : SAIL कर्मचारियों को हर महीने 1 हजार से ज्यादा का नुकसान, Bhilai BMS 6 को घेरेगी बोरिया गेट