Suchnaji

कर्मचारी से अधिकारी बनने वालों को BSP प्रबंधन ने दिया मंत्र, SAIL चेयरमैन की अपील पर भिलाई में अमल

कर्मचारी से अधिकारी बनने वालों को BSP प्रबंधन ने दिया मंत्र, SAIL चेयरमैन की अपील पर भिलाई में अमल
  • डायरेक्टर इंचार्ज अनिर्बान दासगुप्ता ने, कार्यक्रम में उपस्थित नव पदोन्नत कनिष्ठ अधिकारियों को बधाई दी।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र में कर्मचारी से अधिकारी बनने वालों को कंपनी की पॉलिसी से एक बार फिर अवगत करा दिया गया है। डायरेक्टर इंचार्ज अनिर्बान दासगुप्ता संग सभी ईडी, सीजीएम की मौजूदगी में संवाद कार्यक्रम हुआ। 2022 बैच के नव पदोन्नत कनिष्ठ अधिकारियों का प्रबंधन के साथ संवाद कलामंदिर सिविक सेंटर में “विमर्श” कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

AD DESCRIPTION R.O. No. 12697/ 111

ये खबर भी पढ़ें:  SAIL E0 Exam Controversy: जूनियर आफिसर परीक्षा में OBC आरक्षण न होने और नंबर पर फंसा पेंच, रिजल्ट निरस्त कराने की तैयारी

AD DESCRIPTION R.O. No.12697/ 111

दो दिन पूर्व सेल चेयरमैन प्रकाश ने हर किसी को सलाह देने की अपील की थी, ताकि कंपनी को नंबर-1 बनाया जा सके। इस पर भिलाई में अमल शुरू हो गया है। डायरेक्टर इंचार्ज अनिर्बान दासगुप्ता ने, कार्यक्रम में उपस्थित नव पदोन्नत कनिष्ठ अधिकारियों को बधाई दी। भविष्य में उनके नये कार्यभार के लिए शुभकामनाएं दी। उन्होंने प्रोत्साहित करते हुए कहा कि, संयंत्र को प्रत्येक स्तर पर सदैव अग्रसर बनाए रखने हेतु आप सभी अपने सुझाव देने के लिए हमेशा आमंत्रित हैं।

ये खबर भी पढ़ें:  भिलाई और बोकारो में आ रही एक और यूनियन, छत्तीसगढ़ प्लेसमेंट कर्मचारी संघ करेगा भंडाफोड़

उन्होंने सुरक्षा के साथ पर्यावरण के प्रति सजग रहते हुए, उत्पादन के विभिन्न क्षेत्रों में गुणवत्ता को बनाये रखने की चुनौती पर जोर दिया। रावघाट खदान के विकास के साथ निगमित सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत विभिन्न स्तरों पर आसपास के क्षेत्रों के विकास की भी बात कही। साथ ही पर्यावरण संरक्षण हेतु 2030 तक कार्बन डाइऑक्साइड के उत्सर्जन को कम करने के प्रण पर भी प्रकाश डाला।

इस अवसर पर कार्यपालक निदेशक (वर्क्स) अंजनी कुमार ने कहा कि हमारी कार्यक्षमता, निपुणता अन्य संयंत्रों से अधिक होनी चाहिए और ये सतत् रूप से होना चाहिए, जिससे हमारे संयंत्र को अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो सके। उन्होंने कनिष्ठ अधिकारियों से कहा कि इस कार्य के लिए संयंत्र को आप सभी पर पूर्ण विश्वास है और ये बड़ी जिम्मेदारी अब आप पर है।

ये खबर भी पढ़ें:  SAIL को नंबर 1 बनाने का सपना: चेयरमैन का नारा-काम कम मत करो, काम को कम मत लो, मजदूरों से पेमेंट वापस लेने वाले ठेकेदारों की अब खैर नहीं

इस अवसर पर मंच में कार्यपालक निदेशक (परियोजनाएं) एवं अतिरिक्त प्रभार कार्यपालक निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) सुब्रत मुखोपाध्याय, कार्यपालक निदेशक (सामग्री प्रबंधन) अजय कुमार चक्रबर्ती, कार्यपालक निदेशक (वित्त एवं लेखा) डॉ अशोक कुमार पंडा, मुख्य महाप्रबंधक प्रभारी (माइंस एवं रावघाट) समीर स्वरुप तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रभारी (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवांए) डॉ एम रविन्द्र नाथ उपस्थित थे और उन्होंने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। इस कार्यक्रम में उपरोक्त उच्च अधिकारियों के अलावा संयंत्र के विभिन्न विभागों के अन्य अधिकारीगण भी उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें:  BSP के SMS 3 ने जुगाड़ टेक्नोलॉजी से बनाया कबाड़ से रेस्ट रूम

कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य महाप्रबंधक (कार्मिक) संदीप माथुर ने स्वागत उद्बोधन के साथ किया। तत्पश्चात वरिष्ठ प्रबंधक (सुरक्षा अभियांत्रिकी विभाग) शोवन घोष के द्वारा सुरक्षा पर, महाप्रंबधक (पीपीसी) वीएमवी कृष्णा द्वारा खदान, संयंत्र निष्पादन, प्रोजेक्ट्स, वित्त एवं पर्यावरण पर तथा महाप्रंबधक (मानव संसाधन विकास) संजीव श्रीवास्तव द्वारा रोल्स एंड रिस्पॉँसिबिलिटीज़ ऑफ फ्रंटलाइन ऑफिसर्स, मटेरियल्स मैनजेमेंट एंड मार्केटिंग पर प्रस्तुति दी गई।

इसके बाद, संयंत्र के प्रबंधन और नव पदोन्नत कनिष्ठ अधिकारियों के बीच संवाद का दौर प्रारंभ हुआ, जिसमें सभी कनिष्ठ अधिकारियों ने, संयंत्र के प्रति समर्पण दर्शाते हुए, अपने चयन के लिए प्रबंधन को धन्यवाद दिया। साथ ही निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु प्रतिबद्ध रहने की बात कही।

कार्यक्रम के अंत में धन्यवाद ज्ञापन महाप्रंबधक (मानव संसाधन विकास) अमूल्य प्रियदर्शी द्वारा दिया गया। इस पूरे कार्यक्रम का संचालन सहायक प्रबंधक (संपर्क प्रशासन, राजभाषा) जितेन्द्र मानिकपुरी द्वारा किया गया।