Suchnaji

पेंशन, पेंशनभोगी कल्याण विभाग की ताज़ा खबर, पढ़िए डिटेल

पेंशन, पेंशनभोगी कल्याण विभाग की ताज़ा खबर, पढ़िए डिटेल
  • पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण विभाग की मासिक वेबिनार श्रृंखला ‘अनुभव अवार्डी स्पीक’।
  • अनुभव पुरस्कार विजेताओं द्वारा दिखाई गई प्रतिबद्धता और समर्पण से कर्मचारियों को प्रेरित करने का प्रयास करती है।
  • फरवरी 2024 मासिक वेबिनार श्रृंखला में अनुभव पुरस्कार जूरी प्रमाणपत्र विजेता श्री शशि कुमार वलियाथन, सीएसएस (सेवानिवृत्त) शामिल हुए।

सूचनाजी न्यूज, दिल्ली। पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण विभाग की ताज़ा खबर पढ़िए। पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण विभाग की मासिक वेबिनार श्रृंखला ‘अनुभव अवार्डी स्पीक’, अनुभव पुरस्कार विजेताओं द्वारा दिखाई गई प्रतिबद्धता और समर्पण से कर्मचारियों को प्रेरित करने का प्रयास किया गया।

AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़ें :  पेंशनभोगी को लेकर ताजा अपडेट, दिल्ली में बड़ी बैठक

2015 से अब तक 54 अनुभव पुरस्कार और 9 जूरी प्रमाणपत्र

अनुभव पुरस्कार योजना का उद्देश्य सेवानिवृत्त कर्मचारियों को भारत के प्रशासनिक इतिहास का दस्तावेजीकरण करने वाले ‘अनुभव पोर्टल’ पर अपने सेवा काल के अनुभव प्रस्तुत करने के लिए प्रोत्साहित तथा प्रेरित करना है। वर्ष 2015 से अब तक 54 अनुभव पुरस्कार और 9 जूरी प्रमाणपत्र प्रदान किए गए हैं।

ये खबर भी पढ़ें :  पेंशन लोक अदालत शुरू, आप भी फायदा उठाइए

अनुभव अवार्डीज़ स्पीक

केंद्र सरकार के कर्मचारियों को प्रतिबद्धता, समर्पण और उत्साह के साथ अपने कर्तव्य का अनुपालन करने के बारे में प्रोत्साहित करने के लिए, कार्मिक, लोक शिकायतें और पेंशन विभाग (डीओपीपीडब्ल्यू) ने नवंबर 2022 में मासिक राष्ट्रव्यापी वेबिनार श्रृंखला-“अनुभव अवार्डीज़ स्पीक” लांच की।
देश के 500 से अधिक स्थानों के प्रतिभागी भाग लिए

ये खबर भी पढ़ें :  पेंशन लोक अदालत शुरू, आप भी फायदा उठाइए

इसमें उन अनुभव पुरस्कार विजेताओं के साथ बातचीत की परिकल्पना की गई है, जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। इनके अनुभव से केंद्र सरकार के कर्मचारी प्रेरित होंगे।

अब तक, सोलह वेबिनार आयोजित किए जा चुके हैं, जिनमें विविध पृष्ठभूमि और अनुभव प्राप्त 27 वक्ताओं ने प्रतिभागियों को संबोधित किया है। इस वेबिनार श्रृंखला में पूरे देश के 500 से अधिक स्थानों के प्रतिभागी भाग लेते हैं।

ये खबर भी पढ़ें :EPFO की ताजा रिपोर्ट: एक महीने में बने 8.41 लाख नए सदस्य, पढ़िए आंकड़े

सचिवालय की आवाज मुखर होती

सोलहवां वेबिनार 27 फरवरी, 2024 को आयोजित किया गया था। इसमें शशि कुमार वलियाथन, निदेशक (सेवानिवृत्त) भारत सरकार (अनुभव जूरी सर्टिफिकेट विजेता 2023) ने अपने सेवा काल के अनुभव साझा किए। उन्होंने कहा कि अनुभाग अधिकारी, अवर सचिव, उप सचिव की नोटिंग में सचिवालय की आवाज मुखर होती है।

ये खबर भी पढ़ें : अब ऑनलाइन होगी बोकारो स्टील सिटी के खाली मैदान की बुकिंग

उन्होंने राष्ट्र निर्माण में लोक सेवा की भावना को रेखांकित करते हुए कहा कि सरकारी कर्मचारी का पद सत्ता का नहीं, बल्कि विशेषाधिकार और विश्वास का होता है। उन्होंने प्रतिभागियों से प्रत्येक कार्य को योग्य मानने का भी आह्वान किया और कहा कि कड़ी मेहनत ही अपने आप में एक पुरस्कार है।

ये खबर भी पढ़ें : EPS 95 Pension: नहीं चाहिए पेंशन-वेंशन, EPFO लौटाए जमा पैसा

‘अनुभव पोर्टल’

सचिव पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण वी. श्रीनिवास ने शशि कुमार वलियाथन को धन्यवाद दिया। और कहा कि उन्होंने केंद्रीय सचिवालय में सराहनीय सेवाएं प्रदान की हैं और उनकी मेधावी सेवाओं को अनुभव पुरस्कार 2023 के माध्यम से उचित मान्यता मिली है।

उन्होंने सेवानिवृत्त कर्मचारियों को भारत के प्रशासनिक इतिहास का दस्तावेजीकरण करने के उद्देश्य से ‘अनुभव पोर्टल’ पर अपने अनुभव प्रस्तुत करने के लिए प्रोत्साहित किया। इस वेबिनार में देश के 526 स्थानों से पदाधिकारियों ने भाग लिया।

ये खबर भी पढ़ें : ईपीएस 95 पेंशन,आरओसी क्लॉज: नियम स्पष्ट नहीं और मसौदा भी खराब…!